comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

बंगाल : पीएम की रैली में गिरा पंडाल, 22 जख्मी, घायलों से मिले मोदी

September 25th, 2018 14:31 IST

हाईलाइट

  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज ममता के गढ़ पश्चिम बंगाल में रैली को संबोधित करेंगे।
  • पीएम मोदी बंगाल के मिदनापुर जाएंगे।
  • पीएम मोदी ‘मिशन बंगाल’ की भी शुरुआत करेंगे।


डिजिटल डेस्क, कोलकत्ता। ममता के गढ़ में किसान रैली को संबोधित करने पहुंचे पीएम मोदी के कार्यक्रम में पंडाल गिरने से हादसा हो गया। मिदनापुर के जंगलमहल में पीएम मोदी के कार्यक्रम के लिए बनाया गया पंडाल भाषण के दौरान गिर गया। जिससे 22 लोग घायल हो गए। इस दौरान पीएम मोदी ने अपना भाषण बीच में रोक दिया और अपनी सुरक्षा में तैनात एसपीजी के जवानों को घायलों की मदद के लिए तुरंत भेज दिया। इसके बाद पीएम मोदी खुद घायलो से मिलने के लिए अस्पताल पहुंचे। जब मोदी एक घायल लड़की से मिले तो उत्साहित लड़की ने ऑटोग्राफ मांगा। उन्होंने भी देर नहीं लगाई और ऑटोग्राफ दिया। एक अन्य घायल से मुलाकात के दौरान मोदी ने कहा कि बहुत हिम्मत है बेटा तुम्हारे भीतर तुम तुरंत ठीक हो जाओगे। इस पूरी घटना को लेकर पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने भी ट्वीट करते हुए हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया। 

मिशन 2019 की तैयारी में जुटे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ममता बनर्जी पर जमकर जुबानी हमला किया है। मिदनापुर में किसान रैली को संबोधित करने पहुंचे पीएम मोदी जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने उनके आगमन से पहले छिड़े पोस्टर वॉर का जिक्र करते हुए कहा, 'आज मेरे स्वागत में उन्होंने हजारों झंडे और पोस्टर लगाए। मैं इसलिए उनका आभारी हूं, क्योंकि उन्होंने हाथ जोड़कर मेरा स्वागत किया। पीएम ने कहा कि पश्चिम बंगाल का हाल बेहाल हो गया है। बंगाल में कुछ भी करना मुश्किल हो गया है। यहां में सिंडेकेट को चढ़ावे दिए बिना कोई काम नहीं होता है। सिंडिकेट को चढ़ावा दिए बिना कॉलेज में दाखिला तक नहीं होता है। पीएम ने कहा, 'ये सिंडिकेट है जबरन वसूली का, ये सिंडिकेट है किसानों से उनका लाभ छीनने का, ये सिंडिकेट है अपने विरोधी की हत्या करने वालों का, ये सिंडीकेट है गरीब पर अत्याचार करने का।'

पीएम मोदी ने कहा कि क्या बंगाल में लेफ्ट से मुक्ति इसी मसीबत के लिए आई थी। पीएम मोदी ने ममता बनर्जी पर तुष्टीकरण की राजनीति करने का भी आरोप लगाया। पीएम ने कहा कि दशकों के वामपंथी शासन ने पश्चिम बंगाल को जिस हाल में पहुंचाया, आज बंगाल की हालात उससे भी बदतर होती जा रही है। मिदनापुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा, यहां काम कर रहा सिंडीकेट सिर्फ वोट बैंक की खातिर बनाया गया है, और सत्ता में बने रहने के लिए उसका इस्तेमाल हो रहा है। यह पश्चिम बंगाल के बाकी लोगों को कतई अलग-थलग कर देता है। पीएम मोदी यहां एक जन रैली को संबोधित करने के साथ खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाए जाने के केंद्र के फैसले के बारे में लोगों को जानकारी भी दे रहे है। पीएम मोदी के लिए  2019 के लोकसभा चुनावों में बंगाल में जीत दर्ज करना जरूरी है। जिसके मद्देनज़र पीएम मोदी ने  ‘मिशन बंगाल’ की भी शुरुआत कर दी है। 

बीजेपी ने हाल ही में पश्चिम बंगाल के विभिन्न जिलों में अपनी स्थिति मजबूत की है और राज्य में मुख्य विपक्षी दल के तौर पर उभरी है। राज्य के हाल में हुए पंचायत चुनावों में व उपचुनावों में बीजेपी मजबूत बनकर सामने आई है। पीएम मोदी के दौरे से ठीक पहले बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने 29 जून को पुरुलिया जिले में एक जनसभा को संबोधित किया था। शाह के दौरे के महज 15 दिन बाद ही मिदनापुर में पीएम की यह रैली हो रही है। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि मिदनापुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली यह बताती है कि लोकसभा चुनावों के लिये बंगाल हमारे सर्वोच्च प्राथमिकता वाले राज्यों में से एक है। उन्होंने कहा कि हम न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने के लिये पीएम मोदी जी को सम्मानित करना चाहते हैं।

केंद्रीय कैबिनेट ने हाल में धान सहित सभी 14 अधिसूचित खरीफ फसलों के एमएसएफ में बढ़ोतरी को मंजूरी दी है। मोदी दोपहर 12.30 मिदनापुर पहुंचेंगे और मिदनापुर कॉलेज ग्राउंड में जनसभा को संबोधित करेंगे।

पीएम के मिदनापुर में चुनावी रैली को संबोधित करने से पहले चिकमंगलूर से बीजेपी सांसद और कर्नाटक बीजेपी की महासचिव शोभा करंदलाजेकी सांसद ने विवादित बयान दिया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए पश्चिम बंगाल को इस्लामिक रिपब्लिक करार दिया है। शोभा करंदलाजे ने एक खबर साझा करते हुए ट्वीट किया, ''वेलकल टू इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ वेस्ट बंगाल!! 

कमेंट करें
f4sGb
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।