दैनिक भास्कर हिंदी: प्रियंका गांधी बोलीं- अगर राहुल कहे तो वाराणसी से चुनाव लड़ने को तैयार

April 22nd, 2019

हाईलाइट

  • प्रियंका गांधी ने संकेत दिया कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ वाराणसी लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ सकती है।
  • प्रियंका ने कहा कि वाराणसी से उनकी उम्मीदवारी पर फैसला कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी के हाथ में हैं।
  • वायनाड की अपनी दो दिवसीय यात्रा को पूरा करने के बाद केरल से रवाना होने से ठीक पहले मीडिया से बातचीत करते हुए प्रियंका ने ये बयान दिया।

डिजिटल डेस्क, वायनाड तीन हफ्तों में दूसरी बार, उत्तर प्रदेश (पूर्व) की कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने रविवार को संकेत दिया कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ वाराणसी लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ सकती है। हालांकि, प्रियंका ने कहा कि वाराणसी से उनकी उम्मीदवारी पर फैसला कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी के हाथ में हैं।

वायनाड की अपनी दो दिवसीय यात्रा को पूरा करने के बाद केरल से रवाना होने से ठीक पहले मीडिया से बातचीत करते हुए प्रियंका ने कहा, 'अगर कांग्रेस अध्यक्ष मुझसे चुनाव लड़ने के लिए कहते हैं, तो मुझे (वाराणसी से) चुनाव लड़ने में खुशी होगी।' कांग्रेस के वाराणसी दफ्तर में कई लोगों के कॉल भी आए हैं जिसमें प्रियंका को मंदिरों के शहर से चुनाव लड़ने के लिए कहा जा रहा है।

 

 

प्रियंका के वाराणसी से चुनाव लड़ने की चर्चा तब शुरू हुई जब उन्होंने खुद अपनी मां सोनिया गांधी के निर्वाचन क्षेत्र रायबरेली में पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ बातचीत के दौरान एक टिप्पणी की। प्रियंका से जब एक पार्टी कार्यकर्ता ने उन्हें रायबरेली से चुनाव लड़ने के लिए कहा तो प्रियंका ने चुटकी लेते हुए कहा कि 'क्या मुझे वाराणसी से नहीं लड़ना चाहिए?' प्रियंका कई बार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर वाराणसी के अपने निर्वाचन क्षेत्र की अनदेखी करने का आरोप लगाती रही है।

इससे पहले राहुल गांधी से भी जब सीधा सवाल पूछा गया था कि क्या उनकी बहन प्रियंका गांधी वाराणसी से चुनाव लड़ेंगी तो उन्होंने जवाब दिया था, 'आप खुद अंदाजा लगाइए।अंदाजा हमेशा गलत नहीं होता।' जब राहुल गांधी से फिर पूछा गया कि क्या आप इससे इनकार नहीं कर रहे तो उन्होंने कहा, 'मैं ना इसकी पुष्टि कर रहा हूं और ना ही इनकार कर रहा हूं।'

वाराणसी में 19 मई को लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण में मतदान होने हैं। कांग्रेस इस सीट पर अभी तक उम्मीदवार तय नहीं कर पाई है। कांग्रेस इस सीट पर वेट एंड वॉच की स्ट्रेटजी अपना रही है। पिछले हफ्ते, पार्टी ने उत्तर प्रदेश में चुनावों के लिए नौ और उम्मीदवारों की सूची जारी की थी, लेकिन वाराणसी से उम्मीदवार की घोषणा रोक दी थी।

खबरें और भी हैं...