comScore

पंजाब के नेताओं को पार्टी फोरम पर ही शिकायत रखनी चाहिए : कांग्रेस

August 12th, 2020 16:30 IST
 पंजाब के नेताओं को पार्टी फोरम पर ही शिकायत रखनी चाहिए : कांग्रेस

हाईलाइट

  • पंजाब के नेताओं को पार्टी फोरम पर ही शिकायत रखनी चाहिए : कांग्रेस

नई दिल्ली/डलहौजी, 12 अगस्त (आईएएनएस)। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और पूर्व राज्य अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद प्रताप सिंह बाजवा के बीच चल रहे वाकयुद्ध के बीच कांग्रेस ने कहा है कि जिन लोगों को शिकायतें हैं, उन्हें पार्टी फोरम पर ही बोलना चाहिए।

डलहौजी से फोन पर बात करते हुए, पंजाब की कांग्रेस प्रभारी आशा कुमारी ने कहा, किसी के खिलाफ शिकायत करने वाले सभी लोगों को पार्टी के नेताओं से बात करनी चाहिए और पार्टी मंचों पर मुद्दे को उठाना चाहिए। प्रेस से बात करना स्वीकार्य नहीं है।

राज्यसभा सांसद बाजवा ने हाल ही में जहरीली शराब मामले को लेकर अपनी ही पार्टी की सरकार की आलोचना की थी, जिसमें 100 से अधिक लोगों की जान चली गई। उन्होंने राज्यपाल से मुलाकात की है और घटना की सीबीआई जांच या ईडी जांच की मांग की है। उन्होंने पंजाब के मुख्यमंत्री के रूप में अमरिंदर सिंह को हटाने की भी मांग की है।

बाजवा और एक अन्य सांसद शमशेर सिंह ढुलो ने राज्यपाल से संपर्क कर केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) या प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) से इस हादसे की जांच की मांग की है।

मुख्यमंत्री के करीबी सूत्रों ने कहा कि बाजवा अप्रासंगिक हो गए हैं और यह बताना चाहते हैं कि वह राज्य की राजनीति में भी सक्रिय हैं। सूत्रों ने हालांकि कहा कि राज्य में मध्य प्रदेश या राजस्थान जैसे हालात नहीं होंगे, क्योंकि एक भी विधायक पार्टी के खिलाफ नहीं जा रहा है। पार्टी ने यह भी कहा कि राज्यसभा सांसद जनता का ध्यान आकर्षित कर रहे हैं।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने पार्टी नेतृत्व को पत्र लिखकर बाजवा को हटाने की मांग की है।

सूत्रों का कहना है कि इस मामले को पूर्व रक्षा मंत्री ए.के. एंटनी की अध्यक्षता वाली अनुशासन समिति को भेजा गया है।

पंजाब सरकार ने प्रताप सिंह बाजवा की राज्य पुलिस की सुरक्षा वापस ले ली है। बाजवा सरकार के इस कदम की आलोचना कर रहे हैं और इसे अनुचित ठहरा रहे हैं।

एकेके

कमेंट करें
W9FGK