दैनिक भास्कर हिंदी: सरकार किसी की भी बने, लोकसभा चुनाव के बाद राम मंदिर निर्माण तय- मोहन भागवत

February 7th, 2019

हाईलाइट

  • लोकसभा चुनाव के बाद होगा राममंदिर निर्माण- संघ प्रमुख
  • लोकसभा चुनाव तक मंदिर निर्माण आंदोलन को रोकैा गया है- संघ प्रमुख
  • धर्मसंसद के मुताबिक ही राममंदिर निर्माण कराया जाएगा-संघ प्रमुख

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत ने राम मंदिर निर्माण को लेकर बड़ा बयान दिया है। संघ प्रमुख ने कहा, संघ लोकसभा चुनाव 2019 के बाद राम मंदिर का निर्माण शुरू कर देगा, भले ही केन्द्र में किसी भी राजनैतिक दल या गठबंधन की सरकार बने। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में आयोजित आरएसएस के एक कार्यक्रम के दौरान मोहन भागवत ने कहा, हाल ही में कुंभ मेले हुई 'धर्म संसद' के मुताबिक ही मंदिर का निर्माण होगा। फिलहाल संघ लोकसभा चुनाव तक राम मंदिर आंदोलन को रोक रहा है।

मंदिर निर्माण को लेकर आरएसएस के एक अन्य नेता ने बताया, भागवतजी ने एक बैठक में कहा है कि चुनाव के बाद कोई भी सरकार सत्ता में आए, संघ धर्मगुरुओं के साथ मिलकर कार्रवाई करेगा। उन्होंने बताया कि संघ प्रमुख ने राम मंदिर निर्माण के लिए कोई तय तारीख तो नहीं बताई है, लेकिन यह स्पष्ट किया है कि राम मंदिर और गोरक्षा ही हिंदू संस्कृति के आधार हैं और वे बेहद महत्वपूर्ण हैं। इसलिए चुनाव के बाद मंदिर निर्माण होकर रहेगा। 

बता दें कि प्रयागराज कुंभ में हाल ही में हुई 'धर्म संसद' में कहा गया था, जैसे-जैसे चुनाव आ रहा है, कुछ सेक्युलर राजनीतिक ताकतें इकट्ठा हो रही हैं। संत समाज राम जन्मभूमि मुद्दे को राजनीतिक मुद्दे में नहीं बदलने देगा। हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इस मामले में कह चुके हैं कि जब तक सुप्रीम कोर्ट का फैसला नहीं आ जाता है, तब तक किसी अन्य विकल्प पर विचार नहीं किया जाएगा। इससे पहले आरएसएस और वीएचपी ने मांग की थी कि केंद्र सरकार संसद में अध्यादेश लाकर राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त करे।