comScore

जवाब: राम मंदिर भूमिपूजन पर पाकिस्तान को भारत की खरी-खरी, कहा- आतंकियों का मददगार हमारे घरेलू मामलों में दखल न दे 

जवाब: राम मंदिर भूमिपूजन पर पाकिस्तान को भारत की खरी-खरी, कहा- आतंकियों का मददगार हमारे घरेलू मामलों में दखल न दे 

हाईलाइट

  • पाकिस्तान ने अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन कार्यक्रम पर सवाल उठाए थे
  • भारतीय विदेश मंत्रालय ने इसका जवाब बहुत सख्त लहजे में दिया
  • श्रीवास्तव ने कहा, सीमा-पार आतंकवाद में संलिप्त एक देश का यह रुख आश्चर्यजनक नहीं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। राम मंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन कार्यक्रम को लेकर पाकिस्तान की टिप्पणी के बाद भारत ने कड़े और सख्त लहजे में जवाब दिया है। भारतीय विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि दूसरे देशों में आतंकियों को भेजने वाला पाकिस्तान हमारे अंदरूनी मामलों में दखलंदाजी की कोशिश न करे। वो सबसे पहले अपने देश के अल्पसंख्यकों को उनके अधिकार दिलाए। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन किया था। इसके बाद से पाकिस्तान तिलमिला गया है। इमरान सरकार के मंत्रियों के अलावा वहां के विदेश मंत्रालय ने भी इस पर टिप्पणी की थी। यही नहीं पाकिस्तान के रेल मंत्री ने इस पर घटिया बयानबाजी की थी। 

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि हमने इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ पाकिस्तान का बयान देखा। उसे भारत के अंदरूनी मामलों में दखल देने और सांप्रदायिकता भड़काने की साजिशों से बाज आना चाहिए। श्रीवास्तव ने कहा, सीमा-पार आतंकवाद में संलिप्त एक देश का यह रुख आश्चर्यजनक नहीं है। वो अपने ही अल्पसंख्यकों को उनके धार्मिक अधिकारों से वंचित करता है। उसकी इस तरह की टिप्पणियां बेहद अफसोसजनक हैं। पाकिस्तान को भारत के मामलों में हस्तक्षेप करने से दूर रहने को भी कहा।

आतंकवाद फैलाता है पाकिस्तान
प्रवक्ता ने आगे कहा कि पाकिस्तान के इस रवैये से हमें कोई हैरानी नहीं हुई। यह एक ऐसे मुल्क का बयान है जो सीमा पार आतंकवादियों की घुसपैठ कराता है, और फिर इससे इनकार करता है। अपने अल्पसंख्यकों को उनके अधिकार नहीं देता। फिर भी हम इस बयान की निंदा करते हैं।

भारत में अब हिंदूवादी ताकतें हावी
गौरतलब है कि पाकिस्तान ने बुधवार को राम मंदिर के भूमिपूजन और शिलान्यास की आलोचना की थी। अपने बयानों से हमेशा से विवादों में रहने वाले इमरान खान सरकार में रेल मंत्री शेख रशीद ने मोदी सरकार की आलोचना करते हुए उसे सांप्रदायिक बताया था। रशीद ने कहा, भारत अब राम नगर हो गया है। वहां सेक्युलरिज्म नहीं रहा। हालांकि यह पहली बार नहीं है जब रशीद ने बेतुका बयान दिया, इससे पहले भी अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद रशीद ने कहा था कि भारत में अब हिंदूवादी ताकतें हावी हो गई हैं। 

मंगलवार को एक बयान में शेख रशीद ने भारत में धर्मनिरपेक्षता पर सवाल उठाए। इमरान के मंत्री ने कहा कि भारत अब राम नगर में तब्दील हो चुका है। वहां सांप्रदायिकता बढ़ रही है और धर्मनिरपेक्षता यानी सेक्युलरिज्म खत्म हो रहा है। साफ तौर पर कहूं तो भारत अब सेक्युलर रहा ही नहीं। वहां अल्पसंख्यकों को दिक्कत हो रही है। भारत अब श्रीराम के हिंदुत्व में ढल चुका है।

कमेंट करें
A1GQV
कमेंट पढ़े
mohammad Hadish August 18th, 2020 06:26 IST

Loans ke jankare Want