दैनिक भास्कर हिंदी: मोदी के मंत्री बोले- अयोध्या में था बौद्ध मंदिर। पेट्रोल के दाम पर कहा- फर्क नहीं पड़ता

September 16th, 2018

हाईलाइट

  • रामदास आठवले शनिवार को एक समीक्षा बैठक में भाग लेने जयपुर पहुंचे थे।
  • यहां अठावले ने कहा कि मैं पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से परेशान नहीं हूं, क्योंकि मैं मंत्री हूं।
  • मेरा मंत्री पद जाएगा तो मैं परेशान हो जाऊंगा, लेकिन अभी जनता परेशान है।

डिजिटल डेस्क, जयपुर। एक तरफ जहां पूरा देश पेट्रोल-डीजल के लगातार बढ़ रहे दाम और महंगाई से परेशान है। वहीं दूसरी ओर मोदी सरकार में राज्यमंत्री रामदास आठवले को इससे कोई फर्क ही नहीं पड़ता है, क्योंकि वे मंत्री हैं और पेट्रोल-डीजल तो उन्हें फोकट में मिलता है। यह बात हम नहीं बल्कि खुद केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास आठवले ने शनिवार को कही है। उन्होंने यह भी कहा है कि अयोध्या में राम नहीं बौद्ध मंदिर था, जिसे तोड़कर मस्जिद बनाई गई।

बता दें कि रामदास आठवले शनिवार को एक समीक्षा बैठक में भाग लेने जयपुर पहुंचे थे। यहां उनसे जब मीडियाकर्मियों ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से आम आदमी को होने वाली परेशानी के बारे में पूछा, तो इसके जवाब में अठावले ने कहा, ‘मैं पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से परेशान नहीं हूं क्योंकि मैं मंत्री हूं। सरकार मेरी गाड़ियों में डीजल और पेट्रोल भरवाती है। सरकारी पैसे पर पेट्रोल और डीजल जब आता है तो इस बारे में क्या सोचना। मेरा मंत्री पद जाएगा तो मैं परेशान हो जाऊंगा, लेकिन जनता परेशान है। इसे समझ सकते हैं और कीमतें कम करने का दायित्व सरकार का है।'

इस दौरान आठवले ने केंद्र सरकार का बचाव करते हुए कहा कि सरकार तेल की कीमतों पर लगाम लगाने का प्रयास कर रही है। आठवले ने राज्यों को भी नसीहत दी कि वे भी तेल की कीमतों को काबू करने में मदद करें। उन्होंने कहा, 'पेट्रोल-डीजल के दाम कम करने के लिए राज्यों को भी कोशिश करनी चाहिए, क्योंकि इसमें राज्य सरकार के भी टैक्स होते हैं और केंद्र के भी। इन्हें कम करने पर पेट्रोल-डीजल की कीमतें घट सकती हैं।' 

अयोध्या में राम मंदिर को बताया बौद्ध मंदिर
एक पत्रकार ने जब अठावले को बीजेपी के अयोध्या में राम मंदिर बनाने वाले वादे को याद दिलाते हुए सवाल पूछा तो इस पर उन्होंने एक अलग ही राग छेड़ दिया। जवाब देते हुए रामदास अठावले ने अयोध्या में राम मंदिर के अस्तित्व को ही नकार दिया। अठावले ने राम मंदिर वाले सवाल पर कहा कि अयोध्या में राम मंदिर था ही नहीं, वहां तो बौद्ध मंदिर था। उसी बौद्ध मंदिर को तोड़कर मस्जिद बनी है। वहां अब बौद्ध मंदिर बनना चाहिए।

2019 में बीजेपी को 300+ सीटें मिलेंगी
साथ ही लोकसभा चुनाव 2019 पर किए गए एक सवाल के जवाब में रामदास अठावले ने कहा कि मुझे लगता है कि मोदी सरकार के पांच साल पूरा होने पर 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को 300 से ज्यादा सीटें मिलेंगी। बता दें कि रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आरपीआई) के अध्यक्ष रामदास अठावले ने इससे पहले सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग और विशेष योग्यजन निदेशालय के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की थी।

 

खबरें और भी हैं...