comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

मोदी के मंत्री बोले- अयोध्या में था बौद्ध मंदिर। पेट्रोल के दाम पर कहा- फर्क नहीं पड़ता

September 16th, 2018 11:34 IST
मोदी के मंत्री बोले- अयोध्या में था बौद्ध मंदिर। पेट्रोल के दाम पर कहा- फर्क नहीं पड़ता

हाईलाइट

  • रामदास आठवले शनिवार को एक समीक्षा बैठक में भाग लेने जयपुर पहुंचे थे।
  • यहां अठावले ने कहा कि मैं पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से परेशान नहीं हूं, क्योंकि मैं मंत्री हूं।
  • मेरा मंत्री पद जाएगा तो मैं परेशान हो जाऊंगा, लेकिन अभी जनता परेशान है।

डिजिटल डेस्क, जयपुर। एक तरफ जहां पूरा देश पेट्रोल-डीजल के लगातार बढ़ रहे दाम और महंगाई से परेशान है। वहीं दूसरी ओर मोदी सरकार में राज्यमंत्री रामदास आठवले को इससे कोई फर्क ही नहीं पड़ता है, क्योंकि वे मंत्री हैं और पेट्रोल-डीजल तो उन्हें फोकट में मिलता है। यह बात हम नहीं बल्कि खुद केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास आठवले ने शनिवार को कही है। उन्होंने यह भी कहा है कि अयोध्या में राम नहीं बौद्ध मंदिर था, जिसे तोड़कर मस्जिद बनाई गई।

बता दें कि रामदास आठवले शनिवार को एक समीक्षा बैठक में भाग लेने जयपुर पहुंचे थे। यहां उनसे जब मीडियाकर्मियों ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से आम आदमी को होने वाली परेशानी के बारे में पूछा, तो इसके जवाब में अठावले ने कहा, ‘मैं पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से परेशान नहीं हूं क्योंकि मैं मंत्री हूं। सरकार मेरी गाड़ियों में डीजल और पेट्रोल भरवाती है। सरकारी पैसे पर पेट्रोल और डीजल जब आता है तो इस बारे में क्या सोचना। मेरा मंत्री पद जाएगा तो मैं परेशान हो जाऊंगा, लेकिन जनता परेशान है। इसे समझ सकते हैं और कीमतें कम करने का दायित्व सरकार का है।'

इस दौरान आठवले ने केंद्र सरकार का बचाव करते हुए कहा कि सरकार तेल की कीमतों पर लगाम लगाने का प्रयास कर रही है। आठवले ने राज्यों को भी नसीहत दी कि वे भी तेल की कीमतों को काबू करने में मदद करें। उन्होंने कहा, 'पेट्रोल-डीजल के दाम कम करने के लिए राज्यों को भी कोशिश करनी चाहिए, क्योंकि इसमें राज्य सरकार के भी टैक्स होते हैं और केंद्र के भी। इन्हें कम करने पर पेट्रोल-डीजल की कीमतें घट सकती हैं।' 

अयोध्या में राम मंदिर को बताया बौद्ध मंदिर
एक पत्रकार ने जब अठावले को बीजेपी के अयोध्या में राम मंदिर बनाने वाले वादे को याद दिलाते हुए सवाल पूछा तो इस पर उन्होंने एक अलग ही राग छेड़ दिया। जवाब देते हुए रामदास अठावले ने अयोध्या में राम मंदिर के अस्तित्व को ही नकार दिया। अठावले ने राम मंदिर वाले सवाल पर कहा कि अयोध्या में राम मंदिर था ही नहीं, वहां तो बौद्ध मंदिर था। उसी बौद्ध मंदिर को तोड़कर मस्जिद बनी है। वहां अब बौद्ध मंदिर बनना चाहिए।

2019 में बीजेपी को 300+ सीटें मिलेंगी
साथ ही लोकसभा चुनाव 2019 पर किए गए एक सवाल के जवाब में रामदास अठावले ने कहा कि मुझे लगता है कि मोदी सरकार के पांच साल पूरा होने पर 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को 300 से ज्यादा सीटें मिलेंगी। बता दें कि रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आरपीआई) के अध्यक्ष रामदास अठावले ने इससे पहले सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग और विशेष योग्यजन निदेशालय के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की थी।

कमेंट करें
3Ljnl
कमेंट पढ़े
vishram saini September 16th, 2018 18:32 IST

मोदी सरकार के सभी वादे फैल होते नजर आ रहे हैं पहले पेट्रोलियम की कीमत क्या थी और आज की महंगाई ने आसमान को छू लिया है जनता का दर्द जनता को ही पता है

jpg September 16th, 2018 14:56 IST

पेट्रोल डिजल के दाम बढने से नहीं फर्क पडता ! आज भारत मे इसकी खपत को देखते हुए ये रोना बन्द होना चाहीए की ये कितना महगा हुआ हे !

Ramesh Chandra Mamodia September 16th, 2018 10:17 IST

Daniel bhaskar is good news paper

NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।