दैनिक भास्कर हिंदी: नहीं बाज आ रहा पाक, अटारी से दिल्ली आ रही ट्रेन को घंटो रोका, यात्री परेशान

August 9th, 2019

हाईलाइट

  • समझौता एक्सप्रेस ट्रेन इमिग्रेशन जांच के कारण कई घंटे लेट हो गई
  • ट्रेन को अटारी से दिल्ली के लिए रात 8 बजे रवाना होना था
  • ट्रेन में 76 भारतीय और 41 पाकिस्तानी नागरिक सवार है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अटारी से दिल्ली के लिए रवाना होने वाली समझौता एक्सप्रेस ट्रेन इमिग्रेशन जांच के कारण कई घंटे लेट हो गई है। इसे गुरुवार शाम 8 बजे रवाना होना था। दिल्ली आने के लिए इस ट्रेन में 76 भारतीय और 41 पाकिस्तानी नागरिक सवार है जो ट्रेन के चलने का इंतजार कर रहे हैं।

बता दें कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। पाकिस्तान ने गुरुवार को समझौता एक्सप्रेस को रोकने का फैसला लिया है। गुरुवार को दिल्ली से निकली ट्रेन को सुरक्षा चिंताओं का हवाला देते हुए पाकिस्तान ने वाघा बॉर्डर पर रोक दिया था और अपने ट्रेन ड्राइवर और गार्ड को समझौता एक्सप्रेस के साथ भेजने से मना कर दिया था। कुछ देर बाद पाकिस्तान का संदेश आया और उसने भारतीय रेल से अपने ड्राइवर और क्रू मेंबर को भेजकर समझौता एक्सप्रेस को ले जाने के लिए कहा।

पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख राशिद अहमद ने कहा कि समझौता एक्सप्रेस को स्थायी रूप से रोक दिया गया है। जिन लोगों ने पहले से ही अपने टिकट खरीदे हैं, वे अपना पैसा लाहौर डीएस कार्यालय से वापस ले सकते हैं। बता दें कि समझौता एक्सप्रेस में छह स्लीपर और एक 3 एसी कोच है। यह ट्रेन 22 जुलाई, 1976 को शिमला समझौते के तहत शुरू की गई थी, जिसने दोनों देशों के बीच 1971 के युद्ध को सुलझाया। भारत की ओर से, ट्रेन दिल्ली से अटारी और पाकिस्तान की तरफ से लाहौर से वाघा तक चलती है।

इससे पहले मोदी सरकार के इस कदम से बौखलाए पाकिस्तान ने बुधवार को भारत के साथ राजनयिक संबंधों को डाउनग्रेड कर दिया था। प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में की गई नेशनल सिक्यॉरिटी कमेटी की मीटिंग में ये फैसला लिया गया था। पाकिस्तान ने यह भी घोषणा की थी कि वे भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया को निष्कासित कर रहे हैं। फिलहाल भारत में पाकिस्तान का कोई उच्चायुक्त नहीं है। वह इसी महीने नई दिल्ली में उच्चायुक्त भेजने वाला था लेकिन अब नहीं भेजेगा।