comScore

ननकाना साहिब गुरुद्वारा: भीड़ के हमले के बाद पाकिस्तान में 4 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल भेजेगा SGPC

ननकाना साहिब गुरुद्वारा: भीड़ के हमले के बाद पाकिस्तान में 4 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल भेजेगा SGPC

हाईलाइट

  • SGPC अपने चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल को पाकिस्तान भेजेगी
  • गुरुद्वारा ननकाना साहिब पर भीड़ ने पथराव कर दिया था
  • SGPC सिख धर्मस्थलों का प्रबंधन करने वाली शीर्ष संस्था है

डिजिटल डेस्क, चंडीगढ़। शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (SGPC) अपने चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल को पाकिस्तान भेजेगी। शुक्रवार को पाकिस्तान में सिखों के पवित्र स्थल गुरुद्वारा ननकाना साहिब पर भीड़ ने पथराव कर दिया था जिसके बाद यह फैसला लिया गया है। SGPC सिख धर्मस्थलों का प्रबंधन करने वाली शीर्ष संस्था है।

SGPC प्रमुख ने की सख्त कार्रवाई की अपील
ऐतिहासिक सिख तीर्थस्थल पर भीड़ के हमले की कड़ी निंदा करते हुए, SGPC प्रमुख गोबिंद सिंह लोंगोवाल ने पाकिस्तान सरकार से दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की अपील की। लोंगोवाल ने शनिवार को कहा, 'हम पाकिस्तान में गुरुद्वारा ननकाना साहिब पर हमले की कड़ी निंदा करते हैं और पाकिस्तान सरकार से दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने और वहां रहने वाले सिखों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की अपील करते हैं।'

उन्होंने कहा, 'हम पाकिस्तान के चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल को वहां की स्थिति का जायजा लेने के लिए भेजेंगे। प्रतिनिधिमंडल में राजिंदर सिंह मेहता, रूप सिंह, सुरजीत सिंह और राजिंदर सिंह शामिल होंगे। प्रतिनिधिमंडल ननकाना साहिब में सिख परिवारों से और पाकिस्तान के पंजाब के राज्यपाल और मुख्यमंत्री से मुलाकात करेगा।'

लोंगोवाल ने कहा, 'हमने गुरुद्वारा ननकाना साहिब प्रबंधन समिति के साथ बात की है... उन्होंने बताया कि स्थिति अब सामान्य है।' एसजीपीसी प्रमुख ने कहा कि गुरुद्वारा ननकाना साहिब पर हमले के कारण सिख समुदाय की भावनाएं आहत हुईं है। उन्होंने कहा कि एसजीपीसी इस मामले को संयुक्त राष्ट्र में भी उठाएगी।

प्रकाश सिंह बादल ने भी की निंदा
पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने भी गुरुद्वारा ननकाना साहिब पर हमले की निंदा की। उन्होंने कहा, 'हम भारत सरकार से तुरंत कदम उठाने का अनुरोध करते हैं ताकि शांति और सद्भाव बहाल हो।' वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और शिरोमणि अकाली दल (एसएडी) ने शुक्रवार को ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर भीड़ के हमले पर चिंता व्यक्त की थी।

बता दें कि पाकिस्तान में सिखों के पवित्र स्थल ननकाना साहिब में भीड़ ने ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर शुक्रवार को पथराव कर दिया था। ननकाना साहिब गुरुद्वारे का नाम बदलने और सिखों को वहां से भगाने के नारे भी लगाए गए थे। इस कारण पहली बार भजन-कीर्तन रद्द करना पड़ा था। इस दौरान काफी संख्या में सिख श्रद्धालु ननकाना साहिब गुरुद्वारे में फंस गए थे।

कमेंट करें
LqSif