दैनिक भास्कर हिंदी: सामने आई प्रणब दा की फेक फोटो, बेटी बोली- जिसका डर था वही हो रहा है

June 8th, 2018

हाईलाइट

  • नागपुर में हुए RSS के कार्यक्रम में शामिल होने के बाद पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की सोशल मीडिया पर कुछ तस्वीरें वायरल हो रही हैं।
  • इन तस्वीरों में प्रणब, संघ कार्यकर्ताओं की तरह ही सैल्यूट करते नजर आ रहे हैं।
  • इन तस्वीरों को लेकर प्रणब मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी ने RSS और बीजेपी पर निशाना साधा है।

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। नागपुर में हुए RSS के कार्यक्रम में शामिल होने के बाद पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की सोशल मीडिया पर कुछ तस्वीरें वायरल हो रही हैं। इन तस्वीरों में प्रणब, संघ कार्यकर्ताओं की तरह ही सैल्यूट करते नजर आ रहे हैं। इन तस्वीरों को लेकर प्रणब मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी ने RSS और बीजेपी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि उन्हें इस बात का अंदेशा था, इसलिए उन्होंने अपने पिता को संघ के कार्यक्रम में न जाने की सलाह दी थी।

 


शर्मिष्ठा ने अपने एक ट्वीट में लिखा है, 'वही सब शुरू हो गया, जिसका मुझे डर था। मैंने पिता जी को इसीलिए चेताया था। अभी कार्यक्रम को खत्म हुए कुछ घंटे ही बीते हैं और बीजेपी, RSS की गंदी हरकतें शुरू हो गई।' शर्मिष्ठा ने इसके साथ ही एक ट्वीट भी शेयर किया है, जिसमें कार्यक्रम की वास्तविक और फेक फोटो दिखाई गई है।

 

 

बता दें कि 6 जून को शर्मिष्ठा ने एक ट्वीट कर अपने पिता प्रणब मुखर्जी को संघ के कार्यक्रम में न जाने की सलाह दी थी। उन्होंने लिखा था, 'उम्मीद है पिता जी जल्द ही समझ जाएंगे कि बीजेपी किस हद तक गंदा खेल कर सकती है। यहां तक ​​कि संघ भी यह बात जानता है कि आप अपने भाषण में उनके विचारों का समर्थन नहीं करेंगे। दिक्कत की बात यह है कि आपका भाषण कुछ दिनों में भुला दिया जाएगा, लेकिन तस्वीरें बनी रहेंगी, जिनका मनमाने बयानों के साथ बाद में उपयोग किया जाता रहेगा।' उन्होंने लिखा था कि नागपुर जाकर आपने भाजपा और संघ को झूठी कहानियां गढ़ने का मौका दे दिया है।'

 



गौरतलब है कि तमाम विरोधों के बीच पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी 7 जून को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के कार्यक्रम में शामिल हुए। मुख्य अतिथि के तौर पर कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे प्रणब ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के तृतीय वर्ष संघ शिक्षा वर्ग के समापन समारोह को संबोधित किया। उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत भारत का संक्षिप्त इतिहास बताते हुए की। उन्होंने इस दौरान भारत को विवधता वाला देश बताया और कहा कि इन विवधताओं के बीच हम सब एक हैं, यही हमारी ताकत है। उन्होंने संघ के मंच से महात्मा गांधी और जवाहरलाल नेहरू की भी जमकर तारीफें की थी। प्रणब ने अपने भाषण में देश में चल रहे ताजा घटनाक्रम को लेकर मोदी सरकार पर अप्रत्यक्ष रूप से निशाना भी साधा था।