दैनिक भास्कर हिंदी: वो दिन दूर नहीं जब सीएम सिद्धारमैया कसाब की जयंती मनाने लगेंगे-अनंत कुमार हेगड़े

November 19th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े को विवादों में घिरे रहने की आदत हो गई है। तभी तो वो आए दिन कुछ ना कुछ विवादित बयान देते ही रहते हैं। इस बार हेगड़े ने कर्नाटक में टीपू सुल्तान की जयंती मनाए जाने पर कहा है कि वह दिन दूर नहीं जब कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया कसाब की जयंती मनाने लगेंगे। आपको याद दिला दें कि आमिर अजमल कसाब 2008 में हुए मुंबई आतंकी हमले का दोषी था, जिसे नवंबर 2012 में फांसी की सजा दे दी गई थी।

हेगड़े ने आगे कहा कि, 'सिद्धारमैया किट्टूर रानी चिन्नम्मा फेस्टिवल नहीं मनाते, लेकिन वह टीपू सुल्तान की जयंती बड़ी धूमधाम से मानते हैं।' दरअसल सत्तारूढ़ कांग्रेस ने साल 2015 में 10 नवम्बर को टीपू जयंती के रूप में मनाने का फैसला किया था। जिसके बाद दक्षिणपंथी संगठनों ने मैसूर और राज्य में अन्य जगहों पर हिंसक प्रदर्शन किए थे। कांग्रेस सरकार के इस फैसले के बाद बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने टीपू सुल्तान को 'क्रूर हत्यारा, नीच कट्टरपंथी और सामूहिक दुष्कर्मी' बताया था।

इतना ही नहीं केंद्रीय मंत्री हेगड़े का कहना है कि आज कर्नाटक आतंकियों के लिए सुरक्षित जगह बन चुका है। केवल बेंगलुरू में ही लाखों बांग्लादेशी रह रहे हैं। उन्होंने कहा, 'कल्पना कीजिए कैसे आपने पैरों तले बम लगा रखा है।'

उत्तर कन्नड़ लोकसभा सीट से सांसद और केंद्रीय स्किल डेवलपमेंट राज्य मंत्री हेगड़े ने किट्टूर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, 'बेलगाम, बीजापुर हुबली और धारवाड़ में भारी संख्या में अप्रवासी हैं। यहां तक कि किट्टूर में भी आप देख सकते हैं। वह बम हैं।'

सिद्धारमैया करते हैं वोटों की राजनीति
हेगड़े ने कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया पर वोटों की राजनीति का आरोप लगाया और कहा, 'वह वोटों के लिए किसी का जूता भी चाट सकते हैं। उन्हें केवल वोट चाहिए और कुछ नहीं।'