दैनिक भास्कर हिंदी: ISRO की मदद से हाइटेक बनेगा रेलवे, 700 ट्रेनों की बढे़गी स्पीड़, मिलेगी Wi-Fi सुविधा

September 28th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। रेल मंत्री पीयूष गोयल रेलवे को हाईटेक बनाने के काम जुट गए हैं। पीयूष ने दिल्ली में हुए कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि यात्रियों की सुरक्षा ही रेलवे की प्राथमिकता है। इसके लिए रेलवे स्टेशन, प्लेटफॉर्म और ट्रेन कोच में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि पारदर्शिता बनाए रखने के लिए आरपीएफ के जवान और सभी टीटीई अपने यूनिफॉर्म में होंगे। उन्होंने कहा कि भारतीय रेलवे की वर्तमान में सबसे बड़ी आवश्यकता है सुरक्षा। रेलवे के सफर को सुरक्षित बनाए रखने के लिए इसरो, रेल-टेक और भारतीय रेल सभी एक साथ काम कर रहे हैं। 

आपकों बता दें कि इस महीने की शुरुआत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किए गए अपने मंत्रिमंडल के तीसरे फेरबदल में पीयूष गोयल को रेल मंत्री बनाया गया। बता दें कि पिछले दिनों हुए रेल हादसों के बाद तात्कालिक रेल मंत्री सुरेश प्रभु और सरकार को लगातार आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा था।

700 ट्रेनों की स्पीड़ बढे़गी

रेलवे में बड़े सुधारों की उम्मीद के साथ कमान संभालने वाले रेल मंत्री पीयूष ने कहा कि 1 नवंबर से 700 से अधिक ट्रेनों की स्पीड बढ़ाई जाएंगी। 48 एक्सप्रेस ट्रेनों को सुपरफास्ट कटेगरी में शामिल किया जाएगा।

वाईफाई की सुविधा

रेल मंत्री ने कहा कि वह गूगल के साथ मिलकर काम कर रहे हैं ताकि 400 रेलवे स्टेशन को वाईफाई से जोड़ा जा सके। उन्होंने बताया, मैंने रेलटेक को कहा है कि वह वाईफाई कनेक्ट के जरिए हजारों रेलवे स्टेशन को जोड़ा जाए ताकि हम कई गांवों को भी रेलवे स्टेशन के जरिए वाईफाई कनेक्शन दे सके। 

इस बात को मद्देनजर रखते हुए पीयूष गोयल को नए रेल मंत्री का जिम्मा सौंपा गया। रेल मंत्रालय का कार्यभार संभालने के बाद पीयूष गोयल ने ट्वीट कर इशारा दिया कि उनकी नई जिम्मेदारी में रेलवे की प्रगति ही उनका लक्ष्य है।