दैनिक भास्कर हिंदी: मोदी बोले- लोग मुझे गाली देते हैं, अब झेलने की कैपेसिटी बढ़ा रहा हूं

October 3rd, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। गांधी जयंती के अवसर पर पीएम नरेंद्र मोदी का दर्द छलक उठा। स्वच्छता अभियान के तीन साल पूरे होने पर दिल्ली के विज्ञान भवन में बोलते हुए मोदी ने कहा, ऐसा कोई इंसान नहीं जिसे गंदगी पसंद हो। हम सबको स्वच्छता पसंद है। इन तीन सालों में हम आगे बढ़े हैं, कई लोगों ने मेरी आलोचना की कि मोदी ने 2 अक्टूबर की हमारी छुट्टी ख़राब कर दी। चुकी मेरा स्वभाव झेलने का है तो मैं ये भी झेल जाता हूं। अब झेलने की कैपेसिटी भी बढ़ा रहा हूं।

प्रधानमंत्री ने कहा, मीडिया जल्द ही ऐसी तस्वीर छापेगा कि कौन स्वच्छ भारत अभियान में दिलचस्पी नहीं दिखा रहा, कौन इससे दूर भाग रहा है। अगर देश ने ठान लिया है कि भारत को स्वच्छ बनाना है तो हम सबको इससे जुड़ना होगा। ये अभियान भारत सरकार का नहीं, बल्कि पूरे देशवासियों का है। अब ये देश का सपना बन चुका है। इसकी सफलता सरकार की नहीं देश की सफलता है।  

उन्होंने बच्चों को स्वच्छता का सबसे बड़ा एम्बैसेडर बताया। पीएम ने कहा बच्चे अगर किसी को घर में कूड़ा इधर-उधर फेंकते देखते हैं तो कहते हैं ऐसा मत करो।  
इस अभियान में मीडिया के रोल का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा, आज से चार पांच साल पहले टीवी पर कई स्टोरी बनती थी कि स्कूल में बच्चों से सफाई करवाते हैं। आज किसी स्कूल के बच्चे स्वच्छता अभियान में हिस्सा ले रहे हैं तो टीवी की मेन खबर बन जाती है।