दैनिक भास्कर हिंदी: ताजमहल घर में रखना अपशगुन, कहकर विवादों में घिरे अनिल विज

October 20th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दुनिया में प्यार की मिसाल के रूप में फेमस ताजमहल के विवाद ने सियासी गलियारो में हलचल पैदा कर रखी है। ताजमहल पर चल रहे विवाद में अब हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज भी उतर गए हैं। विज ने ताजमहल को 'खूबसूरत कब्रिस्तान' बताया है। जिसके चलते सियासी गलियो में बहस तेज हो गई है। विवादित मामलोंं में बयान देना अनिल विज की आदत में शुमार है।  

 

अनिल विज का कहना है कि दुनिया का यह 7वां अजूबा चाहे कितना भी सुंदर क्यों ना हो लेकिन लोग इसके मॉडल को घर में रखना अपशगुन मानते हैं क्योंकि आखिरकार यह है तो एक कब्र ही। इससे पहले भी अनिल बहुत से विवादित बयान दे चुके हैं। राम रहीम को सजा सुनाने के बाद हिंसा में मारे गए लोगों को मुआवजा देने की पैरवी करके अनिल ने सनसनी फैला दी थी। इतना ही नहीं उन्होंने भारतीय नोटों से गांधी की तस्वीर को हटाने की भी वकालत की थी। 

विधायक संगीत सोम ने बताया ताजमहल को संस्कृति पर धब्बा
यूपी भाजपा के विधायक संगीत सोम ने अभी पिछले दिनों ही ताजमहल को लेकर एक बहुत विवादित बयान दिया था। सोम ने कहा कि 'ताजमहल भारतीय संस्कृति पर धब्बा है। देश के कुछ लोगों को बहुत दर्द हुआ जब ताजमहल का नाम देश के ऐतिहासिक स्थलों में से निकाल दिया गया।' सोम ने आगे कहा कि जिस राजा ने अपने पिता को ही जेल में बंद कर दिया था। उस गद्दावर का नाम इतिहास से मिटा देना चाहिए। ऐसे इतिहास का कोई फायदा नहीं है। मुगल राजाओं ने हिंदुस्तान में हिन्दुओं का सर्वनाश किया था और अब भाजपा सरकार देश के इतिहास से बाबर, अकबर और औरंगजेब के नाम को इतिहास से निकालने का काम कर रही है।

विनय कटियार भी कूदे इस विवाद में
ताजमहल को लेकर जारी बयानबाजी में भाजपा के वरिष्ठ नेता विनय कटियार ने इस विवाद को एक अलग ही हवा दे दी। उन्होंने कहा कि ताजमहल भगवान शिव का मंदिर 'तेजो महल' है, जिसे शाहजहां ने मकबरे में तब्दील कर दिया था। कटियार ने कहा, 'ताजमहल हिन्दू मंदिर है। जिसको 'तेजो महल' कहा जाता था। इतिहासकार पीएन ओक की एक किताब भी ऐसा ही कहती है। शाहजहां ने इसमें अपनी पत्नी को दफनाने के बाद इसे एक मकबरे में बदल लिया था। जिसे हम ताजमहल कहते हैं।