दैनिक भास्कर हिंदी: हार्दिक बिफरे 'बीजेपी पुलिस को साथ में रखकर कर रही गुंडागर्दी'

November 18th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। हार्दिक पटेल की गांधीनगर में होने वाली रैली को प्रशासन ने रद्द कर दिया। हार्दिक शनिवार को सीडी कांड को लेकर एक बड़ा खुलासा करने वाले थे। गुजरात चुनाव से पहले सियासी गलियारों में आए इस सीडी तूफान को लेकर अब हार्दिक ने भी वार करने की पूरी तैयारी कर ली है। ऐसे में चुनाव के लिहाज से मानसा में होने वाली उनकी रैली बेहद अहम मानी जा रही थी। बता दें इस रैली के लिए प्रशासन ने पटेल को इजाजत नहीं दी है। हार्दिक की पार्टी विरोधी पक्ष पर निशाना साधने के लिए इस रैली को लेकर सारी तैयारियां कर चुकी थी। इतना ही नहीं हार्दिक ने ट्वीट कर खुद जनता से इस रैली में आने के लिए कहा था।

सभा कैंसिल होने के बाद हार्दिक तिलमिला गए। उन्होंने बीजेपी पर आरोप लगाया कि उसके दबाव में प्रशासन ने उन्हें जनसभा की इजाजत नहीं दी। भाजपा पुलिस को साथ रखकर जनता पर गुंडागर्दी कर रही है।

 

 

 

 

 

बीजेपी को लेकर कर सकते हैं खुलासे

ऐसी उम्मीद जताई जा रही थी कि इस रैली में हार्दिक विरोधी पक्ष (बीजेपी) को लेकर कई खुलासे कर सकते हैं। कथित तौर पर सीडी सामने आने के बाद हार्दिक और उसकी पार्टी ने इस  पूरे काम के पीछे बीजेपी का हाथ बताया था। हालांकि बीजेपी नेता पहले ही साफ कर चुके हैं कि इस सीडी कांड से उसका कोई लेना-देना नहीं है।

इस बात में कोई दो राय नहीं कि हार्दिक गुजरात चुनाव का एक अहम किरदार है और बडी चुनौती भी, लेकिन चुनाव से पहले बने इस तनातनी के माहौल के कारण उनकी परेशानियां बढ़ सकती है। वहीं बीजेपी से दूरी और कांग्रेस से बात ना बन पाना भी कहीं ना कहीं हार्दिक की चिंताओं को बढ़ा सकता है।

कई दौर की बातचीत के बावजूद पाटीदार आरक्षण के मुद्दे पर अब तक कोई भी फाइनल फैसला नहीं हो पाया है। इस बीच बीजेपी की पहली लिस्ट आने के बाद कांग्रेस ने भी जल्द अपनी सूची जारी करने का ऐलान कर दिया है। ऐसे में हार्दिक की टीम ने कांग्रेस को अल्टीमेटम दिया है कि 24 घंटे में बातचीत नहीं बनी तो दूसरे विकल्पों पर विचार किया जाएगा।