दैनिक भास्कर हिंदी: KCR ने जारी की 105 उम्मीदवारों की लिस्ट, राहुल को बताया ‘मसखरा’

September 7th, 2018

हाईलाइट

  • विधानसभा भंग करते ही तेलंगाना राष्ट्रीय समिति (TRS) ने अपने 105 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर दी है।
  • KCR ने साफ कर दिया है कि वह भारतीय जनता पार्टी के साथ भी कोई गठबंधन नहीं करेगी।
  • KCR ने राहुल गांधी को मसखरा कहते हुए उनका मजाक भी बनाया।

डिजिटल डेस्क, हैदराबाद। तेलंगाना में विधानसभा भंग होते ही एक बार फिर राजनीति गरमा गई है। यहां तेलंगाना राष्ट्रीय समिति (TRS) ने अपने 105 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर दी है। उम्मीदवारों की लिस्ट जारी करने के साथ ही तेलंगाना के कार्यवाहक सीएम के. चंद्रशेखर राव (KCR) ने कांग्रेस पार्टी पर हमला बोल दिया है। साथ ही KCR ने साफ कर दिया है कि वह भारतीय जनता पार्टी के साथ भी कोई गठबंधन नहीं करेगी, क्योंकि TRS 100 प्रतिशत सेक्यूलर पार्टी है। साथ ही KCR ने राहुल गांधी को मसखरा कहते हुए उनका मजाक भी बनाया।

बता दें कि विधानसभा भंग किए जाने का फैसला तेलंगाना कैबिनेट ने लिया, जिस फैसले को राज्यपाल ईएसएल नरसिंहन ने मंजूरी दे दी है। अब समय से पहले तेलंगाना विधानसभा चुनाव का रास्ता भी साफ हो गया है। अपने उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी करने के बाद KCR ने कहा, '2014 से पहले तेलंगाना में बम धमाका, बिजली का मुद्दा और सांप्रदायिक दंगों जैसी कई समस्याएं थीं, लेकिन अब हम इन चीजों से मुक्त हो चुके हैं। मैं कांग्रेस के नेताओं को कह रहा हूं कि वे जमीन पर आएं और चुनाव लड़ें, जनता उनको जवाब दे देगी।'

राहुल गांधी देश के सबसे बड़े मसखरे
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को टारगेट करते हुए KCR ने कहा कि राहुल देश के 'सबसे बड़े मसखरे' हैं, वह जितना तेलंगाना आएंगे TRS उतनी ज्यादा सीटें जीतेगी। KCR ने कहा, 'सब जानते हैं कि राहुल गांधी क्या हैं। वह देश के सबसे बड़े मसखते हैं। पूरे देश ने देखा कि वह कैसे नरेंद्र मोदी के पास गए और उन्हें गले लगाया और किस तरह वह आंख मार रहे थे। वह हमारे लिए संपत्ति की तरह हैं, वह जितना तेलंगाना आएंगे हम उतनी ज्यादा सीटें जीतेंगे।'

KCR ने राहुल और कांग्रेस पार्टी पर हमला तेज करते हुए कहा, 'राहुल गांधी को कांग्रेस की दिल्ली सल्तनत विरासत में मिली है। वह उसके कानूनी उत्तराधिकारी हैं। यही कारण है कि मैं लोगों से अपील करता हूं कि वे दिल्ली और कांग्रेस के गुलाम न बनें। तेलंगाना का निर्णय तेलंगाना में होना चाहिए।'

 


BJP के साथ नहीं होगा TRS का गठबंधन
तेलंगाना में विधानसभा भंग होते ही और चुनाव की घोषणा के बाद से ही मीडिया में लगातार खबरें आ रही थी कि TRS पार्टी केंद्र की सत्ताधारी बीजेपी के साथ गठबंधन कर सकती है। मगर KCR ने इन सभी अटकलों पर विराम लगा दिया है। KCR ने कहा, 'तेलंगाना राष्ट्रीय समिति (TRS) 100 प्रतिशत सेक्यूलर पार्टी है, तो फिर हम कैसे बीजेपी के साथ हाथ मिला सकते हैं।'


AIMIM से दोस्ती पर कोई संदेह नहीं
असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम (ऑल इंडिया मजलिस-ए-एतिहादुल मुसलमीन) से दोस्ती को लेकर KCR से सवाल किया गया। इसके जवाब में उन्होंने कहा कि हम भले ही हर एक चुनाव अकेले लड़ें, मगर एआईएमआईएम से हमारी दोस्ती को लेकर कोई संदेह नहीं है।गौरतलब है कि तेलंगाना में विधानसभा की कुल 119 सीटें हैं। इसमें सत्ताधारी TRS के पास विधानसभा में अभी 90 सीटें हैं, जबकि विपक्षी कांग्रेस के पास 13 सीटें और बीजेपी के पास 5 सीटें हैं।