दैनिक भास्कर हिंदी: ममता को झटका, TMC के 2 विधायक और 50 पार्षदों ने थामा BJP का दामन

May 29th, 2019

हाईलाइट

  • सीपीएम के एक विधायक ने भी ली बीजेपी की सदस्यता
  • बीजेपी ने बंगाल में जीती हैं 18 सीटें
  • मुकुल रॉय के बेटे ने भी ली बीजेपी की सदस्यता

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल की 18 सीटें जीतने के बाद बीजेपी (भारतीय जनता पार्टी) ने टीएमसी (तृणमूल कांग्रेस) को बड़ा झटका दिया है। टीएमसी के 2 विधायक और 50 पार्षदों ने टीएमसी का साथ छोड़कर बीजेपी का दामन थाम लिया है। सभी नेताओं ने मंगलवार को दिल्ली मे बीजेपी की सदस्यता ली। 

पश्चिम बंगाल में बीजेपी 18 लोकसभा सीटें जीतकर दूसरी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभकर सामने आई है। बीजेपी की बंगाल जीत में महत्वपूर्ण भूमिका राज्य के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने निभाई है। उन्होंने सबसे पहले टीएमसी से मुकुल रॉय को बीजेपी में शामिल किया था। अब उनके बेटे शुभ्रांशु रॉय सहित 3 विधायकों ने बीजेपी की सदस्यता ली है। शुभ्रांशु वर्तमान में बीजपुर से विधायक हैं। इसके अलावा टीएमसी के तुषार कांति भट्टाचार्य ने भी बीजेपी की सदस्यता ले ली है, जो विष्णुपुर से विधायक हैं। टीएमसी के अलावा हेमताबाद से सीपीएम (कम्यूनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी) के विधायक देवेंद्र रॉय न भी बीजेपी की सदस्यता ले ली है।
 
नेताओं के टीएमसी छोड़कर इतनी बड़ी तादाद में बीजेपी ज्वाइन करने पर दोनों दलों में तनाव और बढ़ सकता है। कभी ममता बनर्जी के करीबी रहे मुकुल रॉय की मदद से ही बीजेपी टीएमसी को तोड़ने में लगी हुई है। मुकुल रॉय ने 2017 में भाजपा सदस्यता ली थी। उनके बेटे को भी पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण टीएमसी से पहले ही सस्पेंड किया जा चुका है। 


तीन जिलों की नगर पालिका पर BJP का कब्जा
पश्चिम बंगाल के तीन राज्यों से आए 50 पार्षदों के पार्टी की सदस्यता लेने के बाद तीन जिलों की नगर पालिका में बीजेपी सत्ता में आ गई है। काचरापारा नगर पालिका में कुल 26 पार्षद हैं, जिसमें से 17 बीजेपी में शामिल हो गए हैं, जिसके बाद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का पद बीजेपी के खाते में आ गया है। इसके अलावा दो और नगर पालिकाओं में बीजेपी का कब्जा हो गया है।

 

 

 

 

खबरें और भी हैं...