comScore

मराठा आरक्षण : प्रदर्शनकारियों ने बंद कराई दुकानें, रेल रोकी, सड़कों पर जलाए टायर

August 09th, 2018 19:34 IST

हाईलाइट

  • गुरुवार को महाराष्ट्र बंद।
  • आम लोगों से सहयोग की अपील।
  • सरकार ने किए खास इंतजाम।

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मराठा आरक्षण को लेकर आज (गुरुवार) बुलाए गए महाराष्ट्र बंद का पूरे राज्य में व्यापक असर रहा। उपराजधानी नागपुर में जहां ट्रेनें रोक दी गईं, वहीं राज्य के कई हिस्सों से आगजनी की घटनाएं भी सामने आईं। इस दौरान महाराष्ट्र के कई बड़े शहरों में प्रदर्शनकारियों ने जबरदस्ती दुकानें बंद कराई।

नागपुर में प्रदर्शनकारियों ने मानकापुर स्थित दिल्ली रेल मार्ग पर जमकर हंगामा किया। जिससे कुछ समय के लिए रेल यातायात प्रभावित हुआ। यहां प्रदर्शनकारियों ने सड़कों पर टायर भी जलाए। बाईक सवार युवकों ने दुकाने बंद कराई। शुक्रवारी बाजार, गांधी सागर तालाब के सामने दुकानों पर पथराव कर साईनबोर्ड भी तोड़ गए। नागपुर जैसा हाल राज्य के अन्य बड़े शहरों में भी दिखाई दिया।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में मराठा आंदोलन के दो साल पूरे हो चुके हैं। अपनी मांगों के लिए आंदोलनकारियों ने गुरुवार को महाराष्ट्र बंद का एलान किया था। इससे पहले मराठा संगठनों ने लोगों से जरूरत के सामान 8 अगस्त को ही खरीद लेने की अपील की थी। पिछले दिनों मराठा आंदोलन के दौरान हुई हिंसा को ध्यान में रखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने इस बार सुरक्षा के विशेष इंतजाम किए। महाराष्ट्र में मराठा आंदोलन को देखते हुए गुरुवार को कई जगह बसों के पहिए थमे रहे,  जिसके चलते आम लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। वहीं प्रदर्शनकारी हंगाामा करते हुए मुंबई के बांद्रा स्थित कलेक्टर कार्यालय के सामने भी पहुंचे।

अकोला, अमरावती में भी बंद का व्यापक असर देखा गया। चंद्रपुर, गोंदिया-भंडारा में मिला-जुला असर है, गड़चिरोली में बंद का कोई असर दिखाई नहीं दे रहा है। नागपुर में महल के बड़कस चौक पर महिलाओं ने पत्थर मारकर दुकानें बंद करवाई। अशोक चौक, मानेवाड़ा सहित शहर के कई हिस्सों में टायर जलाकर लोगों ने विरोध जताया। महल टाउन हाल में पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले का घेराव किया गया। आग्याराम देवी के पास महिलाओं ने श्रृंखला बनाकर रास्ता रोका, पुलिस ने रास्ता बंद किया।


नागपुर का गणेशपेठ बस स्टैण्ड बंद
महाराष्ट्र बंद के दौरान बुधवार देर रात अंबाडा से नागपुर आई बस क्रमांक एमएच 20 बीएल 3120 को कुछ प्रदर्शनकारियों ने क्षतिग्रस्त कर दिया। जिसके चलते सुबह 7.30 बजे के बाद से ही गणेशपेठ बस स्टैण्ड से बसों का परिचालन ठप है। नागपुर के गणेशपेठ बस स्टैण्ड से रोजाना 11 सौ से अधिक बसों का आवागमन होता है। वहीं 40 हजार से ज्यादा यात्री यहां बसों पर निर्भर रहते हैं लेकिन गुरुवार को मराठा आरक्षण को लेकर बंद रहने से यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

मराठा संगठनों में फूट
महाराष्ट्र बंद पर मराठा समाज के संगठनों में फूट पड़ गई है। सकल मराठा समाज महाराष्ट्र के मराठा क्रांति महामोर्चा के समन्वयक अमोल जाधवराव ने दावा किया कि गुरुवार को ठाणे और नई मुंबई को छोड़कर पूरे महाराष्ट्र में बंद रहेगा। जबकि मुंबई मराठा क्रांति के समन्वयक के वीरेंद्र पवार ने कहा कि हम लोग महाराष्ट्र बंद में शामिल नहीं होंगे। हमने केवल बांद्रा में स्थित मुंबई उपनगर के जिलाधिकारी कार्यालय के सामने धरना- प्रदर्शन करने का फैसला किया है। दूसरी ओर नवी मुंबई के सकल मराठा समाज ने बंद में शामिल नहीं होने की घोषणा की है। ठाणे के मराठा समाज के संगठन बंद में हिस्सा नहीं लेंगे।


 

कमेंट करें
8gBEG