comScore

UNICEF :इस साल भारत तोड़ेगा रिकॉर्ड, मार्च से दिसंबर तक होगा सबसे ज्यादा बच्चों का जन्म

UNICEF :इस साल भारत तोड़ेगा रिकॉर्ड, मार्च से दिसंबर तक होगा सबसे ज्यादा बच्चों का जन्म

हाईलाइट

  • भारत में केवल 9 महीने में दो करोड़ से ज्यादा बच्चों के जन्म का अनुमान
  • यूनिसेफ के अनुसार पूरी दुनिया में 116 मिलियन बच्चे पैदा होंगे

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) के अनुसार मार्च और दिसंबर के बीच देश में दो करोड़ से अधिक बच्चों के जन्म लेने की उम्मीद है। मार्च में भारत में कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन लगा दिया गया था। इसलिए 9 महीनों (मार्च से दिसंबर) में भारत में सबसे अधिक बच्चों के जन्म रिकॉर्ड का अनुमान है। यूनिसेफ (UNICEF) ने चेतावनी भी दी है कि दुनियाभर में महामारी के दौरान पैदा हुई गर्भवती माताओं और शिशुओं को मेडिकल सेवाओं से जूझना पड़ेगा। 

पूरी दुनिया में 116 मिलियन बच्चे पैदा होंगे
यूनिसेफ ने कहा कि कोरोना वायरस (Corona Virus) महामारी के बीच पूरी दुनिया में 116 मिलियन बच्चे पैदा होंगे। वहीं अनुमान है कि जनवरी से दिसंबर 2020 के दौरान भारत में दो करोड़ बच्चों का जन्म होगा। कोरोना महामारी घोषित होने के बाद मार्च से दिसंबर इन 9 महीनों में सबसे अधिक जन्म भारत में होने की संभावना है। इस दौरान अन्य देश चीन (13.5 लाख), नाइजीरिया (6.4 लाख), पाकिस्तान (5 लाख) और इंडोनेशिया (4 लाख) शिशुओं का जन्म होगा।  

होगी काफी परेशानी
यूनिसेफ ने कहा कि अधिकांश देशों में कोरोना वायरस से पहले भी नवजात मृत्यु दर काफी थी। अब महामारी के साथ इन स्तरों में वृद्धि हो सकती है। यूनिसेफ ने चेतावनी दी है कि कोविड-19 के दौर में पैदा होने वाले बच्चों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। वहीं उन्हें सहीं मेडिकल सुविधाएं भी नहीं मिलेगी। जबकि महिलाएं ही रेगुलर चेकअप और डिेलेवरी के लिए कोरोना वायरस के कारण अस्पताल जानें से डरेंगी। 


 

कमेंट करें
Fi6pG