दैनिक भास्कर हिंदी: उप्र : ठोस कचरा प्रबंधन में अपनाना होगा 3आर सिद्घांत

December 3rd, 2019

हाईलाइट

  • उप्र : ठोस कचरा प्रबंधन में अपनाना होगा 3आर सिद्घांत

लखनऊ, 3 दिसम्बर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश सरकार ठोस कचरा प्रबंधन को सुदृढ़ करने के लिए इसके अंतर्गत 3आर सिद्घांत लागू करने जा रही है। स्वच्छ भारत मिशन से आई नई गाइडलाइन भी जारी की गई है।

स्वच्छ भारत मिशन के राज्य निदेशक अनुराग यादव ने बताया कि सॉलिड वेस्ट को लेकर सरकार 3आर सिद्घांत को अपनाने जा रही है। 3आर का अर्थ रिड्यूज, रियूज व रिसाइकिल है।

उन्होंने बताया, मिशन की ओर से जारी गाइडलाइन के अनुसार सार्वजनिक व सामाजिक कार्यक्रमों में डिस्पोजेबल मटीरियल का कम से कम इस्तेमाल करने पर जोर दिया गया है। इससे कचरा अधिक होता है। इसके लिए सभी नगरीय निकायों को इसी के अनुसार समाज को भी जागरूक करने के निर्देश हैं।

यादव ने बताया, सार्वजनिक व सामाजिक कार्यक्रमों के लिए शहरों में क्रॉकरी बैंक बनाने के सुझाव हैं। दुकानों को बढ़ावा देने के साथ ही होटल, रेस्टोरेंट, ऑफिस व स्कूल मैस में बचे हुए खाने को जरूरतमंदों को या फिर गोशालाओं में देने के लिए कहा गया है।

उन्होंने बताया, हर शहर में फूड बैंक बनाने को कहा गया है। पुरानी किताबों व इलेक्ट्रॉनिक आइटम के लिए एक्सचेंज कार्यक्रम चलाए जाएं, ताकि इसे लोग कचरे में न दे सकें। इनका समुचित निस्तारण हो। न्यूनतम दरों पर ऐसे कार्यक्रमों के लिए बर्तन देने की सलाह दी गई है। इलेक्ट्रनिक सामान रिपेयर करने वाले ये उपाय अपनाने से नगरीय निकायों में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट अच्छे से हो जाएगा।