दैनिक भास्कर हिंदी: SP-BSP को योगी ने बताया 'सर्कस का शेर', बोले- देश रामराज्य चाहता है

March 28th, 2018

डिजिटल डेस्क, लखनऊ. यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को एसपी, बीएसपी गठबंधन को लेकर तीखा प्रहार किया. उन्होंने कहा, कुछ लोग 'सर्कस के शेर' बन चुके हैं और वे खुद पर भरोसा करने के बजाय दूसरे की 'जूठन' पर निर्भर हैं। योगी ने कहा कि देश समाजवाद नहीं, बल्कि रामराज्य चाहता है

विधान परिषद में वर्ष 2018-19 के बजट पर चर्चा के दौरान एसपी-बीएसपी के गठजोड़ पर कटाक्ष करते हुए योगी ने कहा, 'कुछ लोग आजकल सर्कस के शेर हो गए हैं। सर्कस का जो शेर होता है वह शिकार करने में असमर्थ होता है, इसलिए दूसरों की जूठन पर ही अपनी पीठ थपथपाता और गौरवान्वित होने की कोशिश करता है।' योगी ने समाजवाद के बारे में कहा कि उन्हें इस 'बहुरूपिये ब्रैंड' के बारे में अच्छी जानकारी है। उन्होंने कहा, 'यह ब्रांड कभी जर्मनी में नाजीवाद के रूप में और इटली में फासीवाद के रूप में देखने को मिला है। क्या उत्तर प्रदेश में इसका वीभत्स रूप गुंडाराज के तौर पर देखने को नहीं मिला है?'

उन्होंने समाजवाद को लेकर भी एक शब्द का इस्तेमाल किया, जिस पर एसपी सदस्यों ने कड़ी आपत्ति जताते हुए पीठ से इसे सदन की कार्यवाही से निकालने का अनुरोध किया। बहरहाल, योगी ने अपनी बात जारी रखते हुए कहा कि समाजवाद 'मृगतृष्णा' से ज्यादा कुछ नहीं है।

योगी ने प्रदेश की पूर्ववर्ती एसपी और बीएसपी सरकारों पर प्रदेश को पिछड़ा बनाने का आरोप लगाते हुए कहा कि इन सरकारों की गलत नीतियों के कारण ही आज बीएड, टीईटी डिग्री धारक तथा शिक्षामित्र खून के आंसू रो रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि बजट में हर तबके का ख्याल किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मंगलवार को एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने संसद में पेश की गई एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए सदन में कहा कि उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा दंगे हो रहे हैं। दरअसल, वह रिपोर्ट वर्ष 2016 की थी, जब सूबे में अखिलेश की ही सरकार थी। पिछली सरकार में महिमामंडित होने वाले अपराधी आज कानून के आगे 'गिड़गिड़ा' रहे हैं।