दैनिक भास्कर हिंदी: पूरी हुई सचिन पायलट की कसम, चार साल बाद सिर पर बांधा साफा

December 18th, 2018

हाईलाइट

  • खास रहा राजस्थान का शपथ ग्रहण समारोह
  • साफा पहनकर शपथ लेने पहुंचे सचिन पायलट
  • पायलट ने संभाला उप मुख्यमंत्री पद

डिजिटल डेस्क, जयपुर। कांग्रेस पार्टी ने विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज कर देश के तीन महत्वपूर्ण प्रदेशों में आज अपनी सियासी पारी की शुरुआत कर दी। मध्यप्रदेश में कमलनाथ ने तो छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल ने शपथ लेकर प्रदेश की कमान संभाली। लेकिन इन सब के बीच चर्चा का विषय रहा राजस्थान का शपथ ग्रहण समारोह। यहां मुख्यमंत्री से ज्यादा खास प्रदेश के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट का साफा पहन कर शपथ लेना रहा। दरअलस सचिन पायलट ने 2014 में कांग्रेस की बुरी तरह हार के बाद यह कसम खाई थी कि जब तक पार्टी सत्ता में वापसी नहीं करती, तब तक वे साफा नहीं बांधेंगे।

राजस्थान में साफे को संस्कृति का महत्वपूर्ण हिस्सा माना जाता है। लेकिन पार्टी के लिए तत्पर रहने वाले उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कांग्रेस की हार के बाद सम्मान का प्रतीक माने जाने वाले साफे से दूरी बना ली थी। पायलट का मानना था कि जब तक पार्टी नहीं जीतती वे साफा नहीं पहनेंगे। लेकिन पार्टी की जीत के बाद साफा पहन कर शपथ लेने पहुंचे पायलट ने अपनी कसम को पूरा किया। बता दें कि सचिन ने टोंक सीट से भाजपा और प्रदेश के एकमात्र मुस्लिम प्रत्याशी युनुस खान को 54,179 वोटों से हराया था।

प्रचार के दौरान भी नहीं पहना साफा
राजस्थान में चुनावी प्रचार में लगभग हर प्रत्याशी साफा पहनकर ही प्रचार करता है। लेकिन जब भी समर्थकों और लोगों ने पायलट को साफा पहनाने की कोशिश की तो उन्होंने उसे ससम्मान सिर से लगाकर वापस कर दिया। 

जीत के हीरो माने जा रहे हैं पायलट
पांच साल बाद प्रदेश में कांग्रेस की वापसी का श्रेय सचिन पायलट को दिया जा रहा है। ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि पार्टी पायलट को ही प्रदेश की कमान सौंप सकती है। लेकिन कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने अनुभव पर भरोसा जताते हुए अशोक गहलोत के नाम पर मुहर लगाई और पायलट को उप मुख्यमंत्री की जिम्मेदारी दी। पायलट ने आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ अल्बर्ट हॉल में इस नई जिम्मेदारी की शपथ ली।