comScore

राजनीतिक तल्खी के बीच मोदी के शपथ ग्रहण में शामिल होंगी ममता

राजनीतिक तल्खी के बीच मोदी के शपथ ग्रहण में शामिल होंगी ममता

हाईलाइट

  • ममता बनर्जी को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित किया गया है
  • ममता बनर्जी ने इस आमंत्रण को स्वीकार कर लिया है
  • लोकसभा चुनावों के दौरान बीजेपी और टीएमसी के बीच कड़वाहट देखने को मिली थी

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को गुरुवार को होने जा रहे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित किया गया है। इस आमंत्रण को ममता ने स्वीकार कर लिया है। लोकसभा चुनावों के दौरान बीजेपी और टीएमसी के बीच कड़वाहट देखने को मिली थी। पीएम मोदी और ममता बनर्जी ने एक दूसरे के खिलाफ जमकर बयानबाजी भी की थी। ममता बनर्जी ने तो यहां तक कह दिया था कि वह पीएम मोदी को चाटा मारना चाहती हैं। इस तल्खी के बावजूद ममता ने आमंत्रण स्वीकार किया है।

शपथ ग्रहण समारोह का आमंत्रण मिलने के बाद ममता बनर्जी ने कहा, 'मैंने अन्य मुख्यमंत्रियों से भी बात की है और हमने इसमें शिरकत करने का फैसला लिया है। मैं भी इस कार्यक्रम में शामिल रहूंगी।' मोदी के सपथ ग्रहण समारोह के लिए बे ऑफ़ बंगाल इनिशिएटिव फ़ॉर मल्टी-सेक्टरल टेक्निकल एंड इकनॉमिक कोऑपरेशन (BIMSTEC) देशों के नेताओं को भी आमंत्रित किया गया है। बांग्लादेश, भारत, श्रीलंका, थाइलैंड, म्यांमार, नेपाल और भूटान BIMSTEC के सदस्य है।

इसके अलावा किर्गिज़ गणराज्य और मॉरीशस के नेता शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे। तमिल सिनेमा के सुपर स्टार - रजनीकांत और कमल हासन को भी भव्य आयोजन के लिए आमंत्रित किया गया है। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव और आंध्र प्रदेश के भावी सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी के भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने की संभावना है।

बता दें कि मोदी 30 मई को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे और इस समारोह में शामिल होने के लिए विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं को आमंत्रित किया है। राष्ट्रपति भवन की ओर से जारी बयान के अनुसार, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 30 मई को शाम 7 बजे राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री एवं मंत्रिपरिषद के अन्य सदस्यों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे।

लोकसभा चुनावों में पश्चिम बंगाल की 42 लोकसभा सीटों में से बीजेपी को 18 जबकि टीएमसी को 22 सीटें मिली थी। 2014 की बात की जाए तो उस समय टीएमसी ने 34 सीटें जीती थी। मंगलवार को टीएमसी के 2 विधायक और 50 पार्षदों ने टीएमसी का साथ छोड़कर बीजेपी का दामन थाम लिया। सभी नेताओं ने दिल्ली में बीजेपी की सदस्यता ली।

पश्चिम बंगाल के तीन राज्यों से आए 50 पार्षदों के पार्टी की सदस्यता लेने के बाद तीन जिलों की नगर पालिका में बीजेपी का कब्जा हो गया है। काचरापारा नगर पालिका में कुल 26 पार्षद हैं, जिसमें से 17 बीजेपी में शामिल हो गए हैं, जिसके बाद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का पद बीजेपी के खाते में आ गया है। इसके अलावा दो और नगर पालिकाओं में बीजेपी का कब्जा हो गया है। 

कमेंट करें
p75lo