दैनिक भास्कर हिंदी: ममता सरकार के मंत्री को बांग्लादेश में नहीं मिली एंट्री, वीजा देने से इनकार

December 25th, 2019

हाईलाइट

  • ममता सरकार के मंत्री सिद्दीकुल्लाह चौधरी को नहीं मिला बांग्लादेशी वीजा
  • चौधरी ने 10 दिन पहले वीजा के लिए आवेदन किया था

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। पश्चिम बंगाल की ममता सरकार के मंत्री और जमीयत-उलेमा-ए-हिंद के राज्य अध्यक्ष सिद्दीकुल्लाह चौधरी को बांग्लादेश सरकार ने वीजा देने से मना कर दिया है। चौधरी ने 10 दिन पहले वीजा के लिए आवेदन किया था और पहले से ही अपने टिकट बुक करा लिए थे। बुधवार को उन्हें सूचित किया गया कि उनके वीजा को बिना कारण बताए अस्वीकार कर दिया गया है।

चौधरी ने कहा, 'एक मंत्री होने के नाते, मुझे किसी भी विदेशी देश की यात्रा करने के लिए केंद्र और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से आवश्यक अनुमति लेनी पड़ी। मुझे केंद्र से एनओसी मिली थी और बनर्जी से भी अनुमति मिली थी। अब, मुझे पता चला है कि बांग्लादेश डिप्टी हाई कमीशन ने मुझे वीजा देने से इनकार कर दिया है। यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है क्योंकि दोनों देश एक अच्छे संबंध साझा करते हैं। मैं सीएम के साथ इस मामले को उठाऊंगा।'

बांग्लादेश डिप्टी हाई कमीशन के अधिकारी टिप्पणी के लिए उपलब्ध नहीं थे। चौधरी ने अपनी पत्नी, बेटी और पोती के साथ सिलहट मदरसे में एक समारोह में भाग लेने के लिए बांग्लादेश के वीजा के लिए आवेदन किया था।

बता दें कि इससे पहले बांग्लादेश के विदेश मंत्री एके अब्दुल मोमन ने अपना भारत दौरा रद्द कर दिया था। वह फॉरेन मिनिस्ट्री की ओर से आयोजित दिल्ली डॉयलॉग में शामिल होने के लिए तीन दिवसीय यात्रा (12-14 दिसंबर) के लिए भारत आने वाले थे। संसद में विवादास्पद नागरिकता (संशोधन) विधेयक के पारित होने से उत्पन्न स्थिति को लेकर उन्होंने अपनी भारत यात्रा रद्द की थी।

 

 

खबरें और भी हैं...