दैनिक भास्कर हिंदी: अगर साध्वी ने मसूद अजहर को श्राप दिया होता तो सर्जिकल स्ट्राइक की जरूरत नहीं होती: दिग्विजय सिंह

April 28th, 2019

हाईलाइट

  • साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को लेकर दिग्विजय सिंह ने दिया बयान
  • साध्वी आतंकी मसूद अजहर को देती श्राप तो नहीं होती सर्जिकल स्ट्राइक
  • पुलवामा, पठानकोट और उरी जैसे हमलों से छुटकारा पाने में सक्षम क्यों नहीं थे ? दिग्विजय सिंह

डिजिटल डेस्क, भोपाल। भोपाल संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस के उम्मीदवार दिग्विजय सिंह ने साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को लेकर बड़ा बयान दिया है। दिग्विजय सिंह ने (शनिवार) रात अशोका गार्डन क्षेत्र में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, साध्वी प्रज्ञा ने मुंबई हमले में आतंकियों का सामना करते हुए अपने प्राणों का बलिदान देने वाले शहीद हेमंत करकरे को सर्वनाश होने का श्राप दिया था। मुझे लगता है अगर साध्वी ये श्राप आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को देती तो शायद आज भारतीय सेना को सर्जिकल स्ट्राइक करने की जरुरत नहीं होती। 

 

 

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लेकर कहा, हमारे देश के प्रधानमंत्री ने कहा था कि हम आतंकियों को तब भी ढुंढ लेंगे जब वे नरक में छिप होंगे। मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि जब देश में पुलवामा, पठानकोट और उरी उस वक्त हम ऐसे हमलों से छुटकारा पाने में सक्षम क्यों नहीं थे? 

दिग्विजय सिंह ने कहा, हिंदू-मुस्लिम-सिख-ईसाई भाई हैं। कुछ लोगों का कहना है कि हिंदुओं को एकजुट होना चाहिए क्योंकि वे खतरे में हैं। मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि इस देश में 500 वर्षों तक मुसलमानों का शासन था। किसी भी धर्म को कोई नुकसान नहीं पहुंचाया गया। हम सभी को उन लोगों से सावधान रहना चाहिए जो धर्म बेचते हैं। 

दिग्विजय ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, हमारे धर्म में हम "हर हर महादेव" कहते हैं, लेकिन भाजपा से हमारी धार्मिक भावनाओं को आहत कर हर हर मोदी के नारे लगाती है। उन्होंने कहा, अगर आप गूगल पर फेकू (झूठा) टाइप करेंगे तो आपको मोदी की फोटो दिखाई देगी। 

 

खबरें और भी हैं...