comScore

UP: ठेले पर भुट्टा देख रुके अखिलेश, मोलभाव करते हुए कहा- बहुत महंगा दे रहे हो

UP: ठेले पर भुट्टा देख रुके अखिलेश, मोलभाव करते हुए कहा- बहुत महंगा दे रहे हो

हाईलाइट

  • उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव शनिवार को बाराबंकी पहुंचे
  • रानीगंज में जहरीली शराब काण्ड के पीड़ित परिवारों से मुलाकात की
  • महादेवा मंदिर में भगवान शिव की आरती और पूजा अर्चना की
  • बाराबंकी यात्रा के दौरान गर्मा गर्म भुट्टे का भी आनंद भी लिया

डिजिटल डेस्क, बाराबंकी। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव शनिवार को बाराबंकी में सड़क किनारे भुट्टे का आनंद उठाते नजर आए। उन्होंने भुट्टेवाले से दाम पूछा और मोलभाव करते हुए कहा- बहुत महंगा दे रहे हो। अखिलेश ने फिर 10 रुपए में भुट्टा खरीदकर खाया। दरअसल अखिलेश शनिवार को बाराबंकी के दौरे पर थे। उन्होंने यहां रानीगंज गांव में जहरीली शराब से मरने वाले लोगों के परिवारों से मुलाकात की।

रानीगंज से लौटते समय अखिलेश अलग अवतार में दिखे। वे महादेवा मंदिर गए और भगवान शिव की पूजा अर्चना की। बाराबंकी से लौटने के दौरान अखिलेश ने गर्मा गर्म भुट्टे का आनंद लिया। अखिलेश का काफिला जैसे ही रामनगर इलाके की केसरीपुर रेलवे क्रासिंग पर पहुंचा, उनका काफिला अचानक रुक गया। अखिलेश सड़क के किनारे ठेले पर भुट्टा बेच रहे एक व्यक्ति को देख कर रुके थे। उन्होंने ठेले वाले से भुट्टे की किस्म पूछते हुए कहा, यह भुट्टा कहां का है। ठेले वाले ने जवाब दिया बहराइच का है। 

अखिलेश ने पूछा कितने में बेच रहे हो। ठेले वाले ने जवाब दिया दस रुपये में। इस पर अखिलेश ने कहा, बहुत महंगा दे रहे हो। अगर मीठा नहीं हुआ तो इसकी वापसी तो होगी नहीं। बाद में अखिलेश ने दस रुपए में एक भुट्टा लिया और गाड़ी में बैठ कर खाने लगे। अखिलेश में भुट्टा खरीदते हुए एक तस्वीर शेयर करते हुए लिखा है, भुट्टा खरीद कर खाना तो एक बहाना है, असली मकसद तो मेहनतकश का हौसला बढ़ाना है।

बाराबंकी के रानीगंज गांव पहुंचे अखिलेश ने जहरीली शराब पीकर मरने वालों के परिवार के लिए 20-20 लाख रुपये मुआवजे की मांग की। अखिलेश ने कहा, जहरीली शराब सरकारी ठेके की थी, उन्होंने आरोप लगाया बीजेपी का शराब माफियाओं से साठगांठ का ये नतीजा है कि लोग जहर पीकर मर रहे हैं। 

कमेंट करें
WZ3jd