comScore

अलग-अलग जारी होगा भाजपा और शिवसेना का घोषणा पत्र, 15 को राणे की पार्टी का विलय

अलग-अलग जारी होगा भाजपा और शिवसेना का घोषणा पत्र, 15 को राणे की पार्टी का विलय

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र में महायुति करके विधानसभा चुनाव लड़ने वाली भाजपा और शिवसेना का अलग-अलग घोषणा पत्र जारी होगा। शिवसेना का घोषणा पत्र पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे 12 अक्टूबर को जारी करेंगे। जबकि भाजपा का घोषणा पत्र 15 अक्टूबर को जारी हो सकता है। शिवसेना ने अपने घोषणापत्र का नाम वचननामा दिया है। शिवसेना के घोषणापत्र में कई लोकलुभावन वादों का समावेश होने की संभावना है। उद्धव ने दशहरा सम्मेलन में गरीबों को 10 रुपए में भोजन की थाली उपलब्ध कराने, किसानों को संपूर्ण कर्ज माफी (सातबारा कोरा), 300 यूनिट तक बिजली की दर को 30 प्रतिशत तक कम करने, केवल एक रुपए में मरीजों की प्राथमिक स्वास्थ्य जांच की सुविधा उपलब्ध कराने जैसी वादों का घोषणा कर चुके हैं। दूसरी ओर कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस के महागठबंधन ने संयुक्त रूप से घोषणापत्र जारी कर दिया है।

15 अक्टूबर को राणे की पार्टी का विलय

प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व राज्यसभा सांसद नारायण राणे की पार्टी महाराष्ट्र स्वाभिमान पक्ष का भाजपा में विलय का एक और मुहूर्त निकला है। महाराष्ट्र स्वाभिमान पक्ष का भाजपा में 15 अक्टूबर को विलय होगा। राणे ने बताया कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस विलय की घोषणा करेंगे। हालांकि भाजपा की सहयोगी शिवसेना का राणे को लेकर विरोध कायम है। शिवसेना के स्थानीय नेता राणे परिवार को स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं हैं। विधानसभा चुनाव में सिंधुदुर्ग की कडकवली सीट से राणे के बेटे नितेश राणे को भाजपा ने उम्मीदवारी दी है। इस सीट पर शिवसेना की ओर से सतीश सावंत चुनाव लड़ रहे हैं।
 

कमेंट करें
SJcmP