comScore

भले ही AIMIM चुनाव न जीते लेकिन बीजेपी को हर हाल में हराएं: अकबरुद्दीन

भले ही AIMIM चुनाव न जीते लेकिन बीजेपी को हर हाल में हराएं: अकबरुद्दीन

हाईलाइट

  • AIMIM नेता अकबरुद्दीन ओवैसी ने मुस्लिम समुदाय से भाजपा को हराने कीअपील की

डिजिटल डेस्क, करीमनगर (तेलंगाना)। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के नेता अकबरुद्दीन ओवैसी ने राज्य में बीजेपी को हराने के लिए मुस्लिम समुदाय से अपील की है। आगामी नगर पालिका चुनाव को लेकर अकबरुद्दीन का कहना है, AIMIM चुनाव नहीं जीतता कोई बात नहीं लेकिव राज्य में भारतीय जनता पार्टी को हर हाल में हराना है। इतना ही नहीं अकबरुद्दीन ओवैसी ने अपने 15 मिनट वाले बयान को एक बार फिर दोहराया है।

AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी के छोटे भाई अकबरुद्दीन ओवैसी ने मुस्लिम समुदाय से आगामी नगर पालिका निगम चुनाव में बीजेपी को हराने की अपील की है। ओवैसी ने मंगलवार को एक सार्वजनिक सभा को संबोधित करते हुए कहा, एक समय था जब निजामाबाद के डिप्टी मेयर एआईएमआईएम से थे, अब बीजेपी के निज़ामाबाद में सांसद हैं। अगर आप नहीं चाहते कि एआईएमआईएम जीत जाए, तो ठीक है, लेकिन बीजेपी को हराएं।

AIMIM नेता ने कहा, निजामाबाद संसदीय सीट जीतने वाली बीजेपी अब मेयर पद पर भी कब्जा कर सकती है। उन्होंने कहा, मुस्लिम समुदाय के एक स्पष्ट आह्वान में ओवैसी ने दर्शकों से एकजुट होने और मजबूत होने की अपील की। ओवैसी ने कहा, मैं इस बार चुनाव नहीं लड़ूंगा, लेकिन मुझे लोगों का आशीर्वाद चाहिए। मैं आपसे एकजुट होने की अपील करता हूं। एक-दूसरे से डरें नहीं। तेलंगाना, सिकंदराबाद, निजामाबाद, करीमनगर और आदिलाबाद में 17 में से इस साल के लोकसभा चुनावों में बीजेपी ने चार सीटें जीतीं। AIMIM सिर्फ एक सीट हैदराबाद जीतने में कामयाब रही जो पार्टी प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी को मिली।

अकबरुद्दीन ओवैसी ने अपने 15 मिनट वाले बयान को भी दोहराया है। तेलंगाना के करीमनगर में एक सभा को संबोधित करते हुए अकबरुद्दीन ने मॉब लिंचिंग का जिक्र करते हुए कहा, उनके 15 मिनट वाले बयान से अभी भी काफी लोग दहशत में हैं। उन्हें आरएसएस, बजरंग दल और बीजेपी से डरने की जरूरत नहीं है। 

अकबरुद्दीन ने कहा, RSS वाले हमारा बाल भी बांका नहीं कर सकते हैं। दुनिया उसी को डराती है जो डरता है, दुनिया उसी से डरती है जो डरना जानता है। बता दें कि अकबरुद्दीन ओवैसी का एक भाषण काफी सुर्खियों में था। उन्होंने 2013 में कहा था, हम (मुस्लिम) 25 करोड़ हैं और तुम (हिंदू) 100 करोड़ हो, 15 मिनट के लिए पुलिस हटा दो, देख लेंगे किसमें कितना दम है। अकबरुद्दीन ओवैसी ने अपने इसी बयान को फिर से दोहराया है। 

कमेंट करें
bfFsz