comScore

डेंगू का डंक : मिला एक मरीज और बढ़ सकती है संख्या

डेंगू का डंक : मिला एक मरीज और बढ़ सकती है संख्या

डिजिटल डेस्क, नागपुर। कामठी तहसील अंतर्गत आने वाले कामठी-नागपुर रोड स्थित कवठा-म्हसाला गट ग्राम पंचायत में इन दिनों भारी गंदगी है। इसी के चलते वायरल जैसी बीमारियां तो फैली ही है। अब डेंगू जैसी बीमारी भी फैल रही है। गांव में डेंगू की एक महिला मरीज की पुष्टि होने से गांव के लोगों में दहशत का माहौल है। वहीं स्थानीय स्वास्थ्य विभाग प्रशासन हरकत में आ गया है। कवठा-म्हसाला गट ग्राम पंचायत में पिछले कुछ दिनों से सरपंच पद यह प्रभारी रूप से उपसरपंच संभाल रहे हैं। गांव में मुखिया न होने से गांव की हालत बदसे बदतर होती जा रही है। यहां की जनता से हर चीज का समय पर टैक्स वसूला जाता है लेकिन, करदाता जनता को मूलभूत सुविधाएं यहां नहीं मिल रही है। गांव में कई खाली प्लाट और खाली जगह है। जहां बारिश और गटर का पानी इकट्ठा होता है। पानी निकासी की सही व्यवस्था न होने के कारण जमे हुए पानी पर आवारा मवेशियों के साथ-साथ घातक मक्खियों व मच्छरों का झुंड शाम होते ही गांव में फैल रहा है। गांव में जगह-जगह गटर के लिए चेम्बर बनाए गए हैं लेकिन, एक भी चेम्बर ऐसा नहीं है जिस पर ढक्कन हो या पूरी तरह साबूत हो, हर चेम्बर फूटा हुआ है। चेम्बर से गंदा पानी और बदबू गांव में चौबीस घंटे फैली रहती है। ऐसे में हर घर में एक व्यक्ति बुखार से ग्रसित पाया जा रहा है लेकिन, न तो अभी तक इस गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने दौरा किया है, ना ही सरपंच तथा सदस्यों ने साफ-सफाई पर ध्यान दिया है। शुक्रवार के दैनिक भास्कर के अंक में गांव की समस्या और अस्वच्छता को लेकर खबर प्रकाशित होते ही गांव के ही कुछ नागरिकों ने गांव में डेंगू के मरीज होने की जानकारी दी। हालांकि, खबर प्रकाशित होने से पहले स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से इसकी पुष्टि की गई लेकिन, उन्होंने साफ इंकार कर दिया था। वहीं जब डेंगू से पीड़ित मरीज की रिपोर्ट दिखाई गई तब उन्होंने इस बात को माना कि, डेंगू से ग्रसित एक मरीज है। वहीं तीन संभावित मरीजों की भी जानकारी मिली है। साफिया अनवर अंसारी (35) म्हसाला टोली निवासी महिला को डेंगू हुआ था। जिसका इलाज नागपुर के मेयो अस्पताल में चला। इलाज के बाद इस महिला को छुट्टी दे दी गई। उसी प्रकार इसी परिसर के निखिल विनित रहांगडाले (16), नजमा परवेज शेख (30) और रौनक परवीन शेख (35) यह तीनों संभावित मरीज बताए जा रहे हैं। इनका इलाज निजी अस्पताल में चल रहा है।

दवा का छिड़काव करेंगे

डॉ. राहुल राऊत, स्वास्थ्य अधिकारी, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के मुताबिक शुक्रवार को गांव का दौरा कर गांव में दवा का छिड़काव किया जाएगा लेकिन, किस कारणवश शुक्रवार को यह टीम गांव में नहीं पहंुची। संभवत : शनिवार या रविवार को यह टीम गांव में पहंुचकर दवा का छिड़काव करेंगी। ऐसी आशा ग्रामवासियों ने व्यक्त की है। यदि समय पर इस गांव की ओर ध्यान नहीं दिया तो धीरे-धीरे डेंगू जैसी भयानक बीमारी पूरे गांव को अपनी चपेट में ले सकती है।

कमेंट करें
JPFk7