comScore

भारत-पाक के बीच कम हुआ तनाव, दोनों देश चाहें तो मदद को तैयार हूं: ट्रंप

भारत-पाक के बीच कम हुआ तनाव, दोनों देश चाहें तो मदद को तैयार हूं: ट्रंप

हाईलाइट

  • कश्मीर मामले में डोनाल्ड ट्रंप ने फिर दोहराया मध्यस्थता का ऑफर
  • ट्रंप ने कहा, भारत-पाक के बीच दो सप्ताह पहले जिस तरह की कटुता दिखी थी उसमें कमी आई है
  • उन्होंने कहा, अगर दोनों देश राजी हों तो वह मदद करने के लिए तैयार हैं

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। कश्मीर मुद्दे को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर मध्यस्थता का ऑफर दोहराया है। ट्रंप का कहना है कि, भारत और पाकिस्तान के बीच दो सप्ताह पहले के मुकाबले तनाव में कमी आई है। अगर दोनों देश चाहें तो वह मदद करने के लिए तैयार हैं। वाशिंगटन में ट्रंप ने कहा, दोनों देशों के बीच दो सप्ताह पहले जिस तरह की कटुता देखने को मिली थी अब उसमें कमी आई है। उन्होंने ये भी स्पष्ट किया है, किसी तरह की मध्यस्थता या मदद वह तभी करेंगे जब दक्षिण एशिया के दोनों ही पड़ोसी देश इसके लिए राजी हों। 

बता दें कि, जी-7 सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद ये पहली बार है जब भारत-पाकिस्तान के रिश्तों पर ट्रंप ने प्रतिक्रिया दी है। दोनों नेताओं के बीच फ्रांस के बिआरित्ज शहर में मुलाकात हुई थी। ट्रंप ने व्हाइट हाउस में सोमवार को पत्रतारों से कहा, आप जानते हैं कि कश्मीर मुद्दे पर भारत-पाकिस्तान के बीच विवाद है, लेकिन पिछले 15 दिनों के मुकाबले इसमें कमी आई है। उन्होंने कहा, मुझे लगता है दो सप्ताह पहले दोनों देशों के बीच जैसी हालत थी अब दोनों के बीच तनाव में कमी आई है। 

गौरतलब है कि, 5 अगस्त को भारत ने जब जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाया था, तभी से पाकिस्तान बौखलाया हुए है। इसके बाद दोनों देशों के बीच रिश्ते तनावपूर्ण हो गए थे। पाकिस्तान ने अमेरिका से भी भारत की शिकायत कर भारतीय नेतृत्व पर दबाव बनाने की कोशिश की थी, लेकिन पाकिस्तान को कुछ हासिल नहीं हुआ। तब ट्रंप ने कहा था, कश्मीर एक ऐसा मुद्दा है जिसे भारत- पाकिस्तान को मिलकर सुलझाना चाहिए। हालांकि इस मुलाकात में पीएम मोदी ने ट्रंप के सामने ये स्पष्ट रूप से कहा था कि भारत और पाकिस्तान के बीच किसी मुद्दे पर तीसरे देश के हस्तक्षेप की आवश्यकता नहीं है।

कमेंट करें
4vJdi