comScore

गुजरात राज्यसभा उपचुनाव: कांग्रेस-बीजेपी के उम्मीदवार आज दाखिल करेंगे नामांकन

गुजरात राज्यसभा उपचुनाव: कांग्रेस-बीजेपी के उम्मीदवार आज दाखिल करेंगे नामांकन

हाईलाइट

  • गुजरात राज्यसभा उपचुनाव के लिए नामांकन भरने का आखिरी दिन आज
  • बीजेपी-कांग्रेस के उम्मीदवार भरेंगे नामांकन
  • अमित शाह-स्मृति ईरानी की सीट खाली होने के बाद कराए जा रहे हैं चुनाव

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। गुजरात में राज्यसभा उपचुनाव में बीजेपी-कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिलेगी। आज (मंगलवार) को दोनो ही पार्टियों के उम्मीदवार नामांकन दाखिल करेंगे। उपचुनाव में बीजेपी ने केंद्रीय मंत्री डॉक्टर एस जयशंकर और जेएम ठाकोर के नाम पर दांव खेला है तो वहीं कांग्रेस ने गौरव पंड्या और चंद्रिका चुडासमा को मैदान में उतारा है। राजनीति के क्षेत्र में चारों बड़े नाम है जाहिर की मुकाबला कड़ा होगा। 

मंगलवार को नामांकन भरने का आखिरी दिन होने की चलते विदेश मंत्री एस जयशंकर अहमदाबाद पहुंच गए हैं। जानकारी के मुताबिक जयशंकर मंगलवार को सुबह 11.30 बजे अपना नामांकन दाखिल करेंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अपनी मंत्रिमंडल में विदेश मंत्री की कमान सौंपी है। जयशंकर विदेश नीति के बड़े जानकार माने जाते हैं। इसके अलवा जेएम ठाकोर उत्तर गुजरात के नेता है, ठाकोर सामाजिक उत्थान के काम के लिए सामाजिक कार्यकर्ता के तौर पर भी जाने जाते हैं। ठाकोर भी मंगलवार को राज्यसभा के लिए अपना नामांकन दाखिल करेंगे। 

कांग्रेस ने भी राज्यसभा चुनाव में प्रत्याशियों को उतारने का फैसला किया है। आज कांग्रेस के दो प्रत्याशी गौरव पंड्या और चंद्रिका चुडासमा नामांकन दाखिल करेंगे। इस चुनाव में दिलचस्प बात तो ये है कि कांग्रेस ने चुनाव आयोग के अलग-अलग वोटिंग किए जाने के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है, जिस पर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट ने अपना जवाब भी दाखिल किया है। हालांकि मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में कांग्रेस की याचिका पर सुनवाई होनी है। 

बता दें कि अगर सुप्रीम कोर्ट चुनाव आयोग के फैसले को बरकरार रखती है, तो कांग्रेस को राज्यसभा की एक सीट का नुकसान होगा, क्योंकि विधायकों की तादाद के मुताबिक, अगर दोनों वोट साथ में होते हैं तो एक सीट बीजेपी और एक सीट कांग्रेस के पाले में जा सकती है। गौरतलब है कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राज्यसभा सदस्यता से इस्तीफा दिया था। इसके बाद उपचुनाव हो रहे हैं। चुनाव आयोग ने अलग-अलग सीट के लिए अलग-अलग वोटिंग करने का आदेश दिया है। 


 

Loading...
कमेंट करें
w3APa