comScore

उच्च शिक्षित डॉक्टर कर रहा था भतीजी का यौन शौषण, पढ़ाई छुड़ाने की देता था धमकी

July 30th, 2018 13:12 IST
उच्च शिक्षित डॉक्टर कर रहा था भतीजी का यौन शौषण, पढ़ाई छुड़ाने की देता था धमकी

डिजिटल डेस्क, नागपुर। पेशे से डाक्टर एक शख्स ने रिश्तों को तार-तार करते हुए अपनी मासूम भतीजी का यौन शोषण किया। चाइल्ड लाइन और शिक्षिका की मदद से घटना उजागर हुई। प्रकरण दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी डाक्टर को अदालत ने पुलिस रिमांड में भेज दिया।  

बड़े पिता के घर पढ़ाई करती थी पीड़िता
पीड़िता 13 वर्षीय मासूम नागपुर के बाहर की रहने वाली है। 1 जनवरी-2012 को पीड़िता के माता-पिता उसे नागपुर लेकर आए थे। पढ़ाई के लिए उसे बड़े पिता शेषराव (43), हुड़केश्वर निवासी के घर रखा गया। शेषराव पेशे से डॉक्टर है। पीड़िता के माता-पिता अपनी पुत्री को शेषराव के पास रखकर उसे अच्छी शिक्षा देकर बड़ा बनाना चाहते थे। पीड़िता 8वीं कक्षा में अध्ययनरत है।

दर्ज शिकायत में पीड़िता ने बताया है कि, जब से वह बड़े पिता के घर रहने आई,  तभी से उसका यौन शोषण किया जा रहा है। हालांकि शेषराव का भी परिवार है। पीड़िता से बड़ी उसकी पुत्री भी है। बावजूद उच्च शिक्षित शेषराव ने अपनी पुत्री तुल्य पीड़िता पर बुरी नजर डाली और उसका शोषण करने लगा। किसी को कुछ बताने पर शेषराव ने पीड़िता को उसका स्कूल बंद करवाने और माता-पिता के पास गांव भेजने की धमकी दे रखी थी। इससे डरी-सहमी पीड़िता ने चुप्पी साध ली और किसी को कुछ बताने की वह हिम्मत ही नहीं जुटा पाई।

यौन प्रताड़ना के पाठ के दौरान बताई व्यथा
स्कूल में यौन प्रताड़ना से बचने के बारे में पाठ पढ़ाया गया। इस दौरान पीड़िता ने खुद के साथ घटित वाकया अपनी स्कूल शिक्षिका को बताया। इस वाकये को सुनकर शिक्षिका सन्न रह गई। पश्चात पीड़िता और शिक्षिका ने चाइल्ड लाइन को फोन कर इस प्रकरण की जानकारी दी। चाइल्ड लाइन ने स्कूल में जाकर पीड़िता से पूछताछ की और उसके बाद शनिवार को पीड़िता को संबंधित थाने ले जाया गया।

प्रकरण दर्ज कर शेषराव को तत्काल गिरफ्तार कर लिया गया। हालांकि शेषराव अपनी सफाई में घटना से इनकार कर रहा है। शेषराव को अदालत में पेश करने के बाद उसे पुलिस रिमांड में भेज दिया गया है। हवलदार युवराज ने प्रकरण दर्ज किया है। 

कमेंट करें
5uhVW