comScore

'न्यू इंडिया के इतिहास के पन्नों में दर्ज हुए मोदी सरकार के युगांतरकारी कदम'

'न्यू इंडिया के इतिहास के पन्नों में दर्ज हुए मोदी सरकार के युगांतरकारी कदम'

हाईलाइट

  • चुनावी वायदों की 'कथनी' और संसद में 'करनी' के भेद को मोदी सरकार ने पूरी दृढ़ता के साथ मिटा दिया

'सौ दिन के हर पल-छिन में किसान
ग्राम्यभारत में संभावनाओं का उजास'

        -जयराम शुक्ल

किसी भी सरकार के लिए उपलब्धियों के सौ दिन का लेखा-जोखा पेश करना आसान काम नहीं, क्योंकि अमूमन इतने दिन तो योजनाओं को कागज से धरातल पर ही उतारने में लग जाते हैं, लेकिन अब तो प्रायः हर देशवासी की जुबां से यही निकलता है- मोदी है तो मुमकिन है।

सौ दिन में तीन तलाक जैसे रुढ़िवादी जाहिल कानून से मुस्लिम बहनों की मुक्ति और अनुच्छेद 370 व 35ए से मुक्त नए कश्मीर की बुनियाद ये दोनों ही सामाजिक सुरक्षा और राष्ट्रीय अखंडता की दृष्टि से युगांतरकारी कदम हैं और ये आइडिया ऑफ न्यू इंडिया के इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गए हैं। चुनावी वायदों की 'कथनी' और संसद में 'करनी' के भेद को मोदी सरकार ने पूरी दृढ़ता के साथ मिटा दिया।

पर कई क्षेत्रों में जनकल्याण की ऐसी ठोस शुरुआत हुई जिसका असर ग्राम्य भारत अंतस से महसूस करता है वह है ग्रामीण विकास, कृषि एवं कृषक कल्याण तथा सहकारिता। इस विभाग की बागडोर है मध्यप्रदेश के सर्वप्रिय नेता नरेन्द्र तोमर के हाथों। केंद्र में श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा सरकार की यह दूसरी पारी है। कई मंत्रियों की भूमिकाओं में अदला-बदली हुई है। लेकिन दायित्वों को लेकर जो विश्वास श्री तोमर का बना हुआ है यह उनकी विलक्षण प्रतिभा को रेखांकित करता है।

श्री तोमर ने पिछले कार्यकाल में इस्पात और खनन जैसे महत्वपूर्ण विभाग तो सँभाले ही, लेकिन जब ऐसी स्थिति बनी कि मंत्रालयों के अतिरिक्त दायित्व किसे दिए जाएं तो केन्द्रीय नेतृत्व के समक्ष बरहमेश एक ही चेहरा उभरा वह था तोमरजी का। पिछले कार्यकाल में भी वे ग्रामीण विकास, कृषि, सहकारिता विकास सँभाल चुके हैं।

संसद में राष्ट्रपति अभिभाषण या बजट के प्रस्तावों पर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के भाषणों पर गौर करें तो उनकी चिंता और वरीयता में किसानों का कल्याण, ग्रामीण भारत का उत्थान सर्वोपरि रहा। 2022 तक गरीब मुक्त भारत का संकल्प है..और इस संकल्प के भीतर हर व्यक्ति को आश्रय-आवास देने का। सबसे भगीरथ प्रयास किसानों की किस्मत बदलने की है, खेती को मुनाफे का धंधा बनाने की है।

नए और ग्राम्य भारत की चमकदार तस्वीर गढ़ने की गुरुतर जिम्मेदारी यदि किसी पर है तो वे हैं श्री नरेन्द्र सिंह तोमर। सहज, शालीन और जुनून के हद तक पहुंच कर प्रण पूरा करने का माद्दा ही उन्हें शीर्ष नेतृत्व का प्रियपात्र बना देता है। भाजपा सरकार के दूसरे कार्यकाल के 100 दिन पूरा होने पर मंत्री के तौर पर श्री तोमर जी के पास कहने के लिए काफी कुछ है। आँकड़ों में अब तक की उबलब्धियां तो हैं ही भविष्य के सक्षम और समर्थ ग्राम्य भारत का स्पष्ट रोडमैप है। 

ग्रमीणों के लिए मनरेगा रोजगार की ऐसी वैकल्पिक योजना है जिसने करोड़ों-करोड़ लोगों को निराशा के भँवर में नहीं फँसने दिया। स्वाभिमान के श्रम के अवसर उपलब्ध कराने वाली इस योजना को और भी प्रभावी तरीके से लागू किया गया है। इन सौ दिनों में मनरेगा में नियोजित श्रमिकों की संख्या 11करोड़ 95 लाख से ऊपर है।

श्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने जिस योजना को लेकर सर्वाधिक सराहना और गरीब परिवारों की शुभेक्षा अर्जित की है वह है प्रधानमंत्री आवास योजना..। जाति-पाँति धर्म संप्रदाय से ऊपर हर जरूरत मंद परिवार को आवास उपलब्ध कराने की इस महत्वपूर्ण योजना को यथार्थ के धरातल पर मूर्तरूप लेते देश देख रहा है। इन सौ दिनों में एक करोड़ बीस लाख आवास स्वीकृत किए गए।

स्वच्छता अभियान के बाद महात्मा गाँधी के सपनों की दूसरी योजना है ग्राम स्वराज अभियान। सरकार की कोशिश है कि हर गाँव की अपनी स्वतंत्रत अर्थव्यवस्था विकसित हो। खेती और कुटीर उद्योगों को परस्पर जोड़कर ग्रामीण नागरिक को कैसे समर्थ और आत्मनिर्भर बनाया जा सकता है इस दिशा में सरकार के कदम तेजी से आगे बढ़े हैं। कुटीर उद्योगों के लिए आसान ऋण और कौशल प्रशिक्षण की सुविधा तो है ही खेती को किस तरह मुनाफे का धंधा बनाया जाए नरेन्द्र तोमरजी के कुशल नेतृत्व में ग्रामीण विकास, कृषि कल्याण मंत्रालय तेजी से आगे बढ़ रहा है।

'जिसका कोई नहीं उसके हम' के ध्येय वाक्य के साथ आगे बढ़ रही मोदी सरकार ने इस बजट में ऐसे किसानों के लिए महत्त्वपूर्ण योजना घोषित की है जो छोटी काश्त के हैं, अपनी ही जमीन पर मजूर भी वही हैं, यानी कि सीमांत किसानों के लिए 3000रू. प्रतिमाह की मानधन निधि। इस श्रेणी के किसानों को यह निधि 60 वर्ष की उम्र पार करने पर मिलनी शुरू होगी। यह कमतर उपलब्धि नहीं कि इन सौ दिनों में 7 लाख 80 से ज्यादा किसान पंजीकृत हो चुके हैं।

सौ दिनों के भीतर ही 6 करोड़ 37 लाख किसानों को सम्मानित निधि के लिए पात्र चिन्हित किया गया है और इन्हें 20529 करोड़ की धनराशि वितरित की गई है। मोदी सरकार का लक्ष्य है का 2022 तक भारत देश गरीबी के अभिशाप से मुक्त होकर वैश्विक क्षितिज में सक्षम भारत-समर्थ भारत बनकर स्थापित हो। इस संकल्प को पूरा करने की दिशा में यदि किसी की सबसे अग्रगण्य भूमिका है तो ग्रामीण विकास, कृषि-कृषक कल्याण और सहकारिता मंत्रालय की। श्री तोमर के नेतृत्व में यह मंत्रालय सौ दिन के भीतर ही अपनी विशिष्ट छाप छोड़ने में सफल रहा है। श्री तोमर की पृष्ठभूमि और सार्वजनिक जीवन में अबतक की यात्रा के दृष्टांत ही उन्हें दूसरों से विशिष्ट बनाते हैं।

भारतीय जनता पार्टी की  नई पीढ़ी के जिन वरिष्ठ नेताओं ने अपने सहज, सरल और सफल व्यक्तित्व व कृतित्व से गहरी छाप छोड़ी है उनमें से श्री नरेन्द्र सिंह तोमर का नाम अग्रगण्य है। सहजता के आवरण में ढंका हुआ उनका कुशाग्र राजनय उनके व्यक्तित्व का चुम्बकीय आकर्षण है। यहीं वजह है कि 1998 से विधानसभा और फिर संसदीय पारी को आगे बढ़ाते हुए श्री तोमर प्रदेश के सत्ता संगठन से लेकर केन्द्रीय राजनीति तक अपरिहार्य हैं।

यह सब कुछ उन्हें विरासत में नहीं मिला अपितु उन्होंने अपनी लकीर खुद खींची, अपनी लीक स्वयं तैयार की। राजनीति के इस दौर में जहां धैर्य लुप्तप्राय तत्व है वहीं यह तोमरजी की सबसे बड़ी पूँजीे है। श्री तोमर की जड़ें राजनीति की जमीन पर गहराई तक हैं। वृस्तित जनाधार और लोकप्रियता की छांव उन्हें सहज, सरल, सौम्य और कुशाग्र बनाती है, यहीं उनके धैर्य और शक्ति-सामर्थ्य का आधार भी है। श्री तोमर पूर्णत: सांस्कारिक राजनेता है जिन्होंने अपने दायित्व को कभी बड़ा या छोटा करके नहीं नापा। 

विद्यार्थी परिषद की छात्र राजनीति से उनके सार्वजनिक जीवन का शुभारंभ हुआ। उन्होंने अपनी जन्मभूमि मुरैना जिले के ओरेठी गांव की जमीनी हकीकत देखी और यहीं से तप कर निकले। राजनीति में शून्य से शिखर तक पहुंचने वाले गिनती के ही सहयात्री ऐसे हैं जो गांव-मोहल्ले की राजनीति से चलकर दिल्ली के राजपथ तक पहुंचे। श्री तोमर ने ग्वालियर नगर निगम की पार्षदी से चुनाव यात्रा शुरू की। वे तरूणाई में ही देश की मुख्य राजनीतिक धारा से जुड़ गए थे।

 आपातकाल के बाद 1977 में जब केन्द्र व प्रदेश में जनता पार्टी की सरकार थी तब वे पार्टी के मण्डल अध्यक्ष बने। अपनी प्रभावी कार्यशैली और वक्तृत्व कला के जरिए व मोर्चे के प्रदेश भर के युवाओं के चहेते बन गए परिणामत: 1996 में वे भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष बने। मैंने श्री तोमर के आरंभ काल का जिक्र इसलिए किया ताकि पार्टी की नई पीढ़ी यह जाने और समझे कि यदि लगन, निष्ठा और समर्पण है तो उसके उत्कर्ष को कोई बाधा नहीं रोक सकती, श्री तोमर, उनका व्यक्तित्व व उनकी राजनीतिक यात्रा इसका एक आदर्श व जीवंत प्रमाण है। 

उनके व्यक्तित्व की सबसे बड़ी खासियत यह है कि वे सब कुछ करने, परिणाम देने व समर्थ होने के बावजूद भी स्वयं श्रेय लेने पर विश्वास नहीं करते। वे अपनी उपलब्धियों को साझा करते हैं। श्री तोमर के नेतृत्व व प्रशासनिक क्षमता का लोहा तो विपक्ष की राजनीति करने वाले भी मानते है। मेरी अपनी दृष्टि से श्री तोमर नई पीढ़ी के कार्यकर्ताओं के लिए इसलिए भी अनुगम्य और प्रेरणादायी हैं कि इकाई स्तर से शिखर की राजनीति तक का सफर किस धैर्य व संयम के साथ किया जाता है।

वे एक पार्षद से विधायक, सांसद, मंत्री से केन्द्रीय मंत्री तक पहुंचे वहीं मंडल के अध्यक्ष के दायित्व से प्रदेश के अध्यक्ष, राष्ट्रीय महामंत्री बने। यह भारतीय जनता पार्टी में ही संभव है जहां कार्यकर्ता की क्षमता और निष्ठा का ईमानदारी से मूल्यांकन होता है। 

लेखक- मध्यप्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार हैं

कमेंट करें
RdG6J
NEXT STORY

5 मार्केट ट्रेंड्स से लाभ उठा सकते हैं ओलिंप ट्रेड फॉरेक्स के ट्रेडर्स

5 मार्केट ट्रेंड्स से लाभ उठा सकते हैं ओलिंप ट्रेड फॉरेक्स के ट्रेडर्स

डिजिटल डेस्क। मार्केट में बेहतर तरीके से कार्य कर पाने के लिए दुनिया में चल रहे वित्त से संबंधित रुझानों की जानकारी रखना प्रत्येक ट्रेडर के लिए महत्वपूर्ण है। हालांकि अधिकाधिक लाभ के लिए यह भी नाकाफी है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए हम 5 मार्केट ट्रेंड्स से आपको रूबरू कराना चाहते हैं जिनका इस्तेमाल करके आप अधिक से अधिक लाभ कमा सकते हैं। चूंकि रुझान तेजी से बदल सकते हैं, ऐसे में समाचार और मार्केट के बीच के संबंध को भी समझना आवश्यक है। इसके चलते एक ट्रेडर अधिक सजग रहता है और उसे यह पता चलता रहता है कि कब मार्केट ट्रेंड धीमे हो रहे हैं या विपरीत दिशा में जा सकते हैं।

1. गोल्ड मार्केट
पिछले कुछ समय से गोल्ड को लेकर लोगो में तेजी से रुचि जागी है। इसने हाल ही में $ 1500 अमरीकी डालर प्रति औंस की वेल्यू तक पहुंचा जिसके चलते बड़ी संख्या में ट्रेडर्स के बीच सोने की मांग बढ़ी ताकि वे सुरक्षित और स्थिर वस्तु में पैसा लगा सकें। मई के बाद से सोना 200 डॉलर प्रति औंस से अधिक प्रति औंस पर कारोबार कर रहा है। यह वर्तमान अमेरिकी / चीन व्यापार युद्ध से प्रभावित है जिसमें चीन द्वारा युआन में हेरफेर कर उसके मूल्य को नीचे लाना भी शामिल है। इसमें चिंता की बात यह भी है कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था धीमी हो रही है और हाल ही में अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों को कम करने का निर्णय लिया गया है। 

यहां हम ओलिंप ट्रेड अकाउंट का चार्ट आपको दर्शा रहे हैं जो कि अगस्त 9 से है और 4 घंटे के अंतराल की जानकारी देता है। चार्ट इस वर्ष के मई माह से शुरु होता है। यहां आप स्पष्ट रूप से बढ़ते हुए ट्रेंड देख सकते हैं कि ट्रेडर्स को सोने में निवेश कर लाभ कमाने का अवसर मिल रहा है। लंबी अवधि में ट्रेड करने वाले ट्रेडर्स मार्केट के ऊपर जाते ट्रेंड्स का इंतजार कर सकते हैं और अधिक पैसा कमा सकते हैं। वहीं प्रतिदिन ट्रेड करने वाले ट्रेडर्स बाउंसेज यानी ऊपर जाते मार्केट का लाभ लेकर 4 से कर 10 प्रतिशत का लाभ प्रतिदिन ले सकते हैं।  

 

2. ब्रेंट ऑयल
पिछले महीने के कई घटनाक्रमों के चलते ब्रेंट ऑयल की कीमतें अपने निचले स्तर पर पहुंच चुकी हैं। यह ज्यादातर वैश्विक मांग की कमी पर आधारित है, लेकिन यह युआन में बदलाव से भी प्रभावित हुआ था क्योंकि चीन के कई तेल आयात युआन में करने पर विचार किया जा रहा है। सउदी ने तब से घोषणा की है कि वे ओपेक के अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे ताकि एक डील के तहत उत्पादन में कटौती कर कीमतों को वापस ऊपर लाया जा सके। जैसा कि आप नीचे दिए गए चार्ट से देख सकते हैं, उत्पादन में कटौती के जिक्र से ही मार्केट में ऊपर जाते ट्रेंड्स देखने को मिलने लगते हैं। $ 55 अमरीकी डालर प्रति बैरल मूल्य होते ही ओपेक हमेशा हरकत में आता है और कई ठोस कदम उठाता है जिससे कीमतों को बढ़ाया जा सके। ट्रेडर्स इस अवसर का फायदा उठा सकते हैं। इस साल यह मूल्य रेंज $ 65 - $ 70 USD हो सकती है। ओलिंप ट्रेड ऐसे ही खास अवसर और मौकों को भूनाने का अवसर देता अपने ट्रेडर्स को जिससे वे तेल कीमतें ऊपर जाकर स्थिर होने से पहले अधिक लाभ कमा सकें। 

3. तेल आधारित मुद्राएँ
विदेशी मुद्रा बाजारों में एक दूसरे पर निर्भर करने वाली वस्तुओं में मुद्रा और तेल हैं। इसमें भी तेल के साथ सबसे करीबी संबंध रूसी रूबल का है। चूंकि रूबल कई साल पहले मुक्त मुद्रा बन गया था इसलिए डॉलर/ रूबल और यूरो / रूबल मुद्रा जोड़े तेल की कीमत के साथ घटते और बढ़ते देखे गए हैं। रूसी सेंट्रल बैंक 62 से 65 रूबल प्रति डॉलर का मूल्य रखना पसंद करता है, ऐसे में तेल की कीमतों में किसी भी महत्वपूर्ण गिरावट से 65 से ऊपर की संख्या जाने पर रूसी उत्पादक ओपेक से संपर्क साधना शुरू कर देते हैं ताकि कीमतों को वापस अपने स्थान पर लाया जा सके। हालांकि ऑयल कार्टेल का आधिकारिक सदस्य रूस नहीं है पर यह समूह द्वारा निर्धारित उत्पादन कोटा के साथ अक्सर सहयोग करता है। स्क्रीनशॉट में आप 65 रूबल स्तर पर प्रतिरोध और 63 स्तर पर समर्थन देख सकते हैं। इसका लाभ उठाने के इच्छुक व्यापारी ऑप्शन ट्रेडिंग का उपयोग कर सकते हैं। इस मुद्रा जोड़ी पर कुछ अच्छा मुनाफा कमाने के लिए ब्रेंट ऑयल की कीमत में बदलाव का फायदा उठाया जा सकता है।

4. बिटकॉइन
बिटकॉइन अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है हालांकि कुछ लोगों ने इस साल की शुरुआत में ऐसी भविष्यवाणी की थी। यह अब कुछ महीनों से बढ़त की ओर है। युआन की गिरावट भी एक कारण है कि लोग डॉलर के विकल्प के रूप में बिटकॉइन को  देख रहे हैं। हालांकि यह विश्वास करना कठिन है कि बिटकॉइन इस साल अप्रैल में $ 4,000 पर था और अभी हाल ही में $ 12,000 पर जाकर रुका। ब्लॉकचैन मुद्रा में वृद्धि, थोड़ी गिरावट, और फिर फिर से वृद्धि की प्रवृत्ति दिखाई देती है। बिटकॉइन में ट्रेड के लिए दो चीजें महत्वपूर्ण हैं- विकल्प और फोरेक्स। इसी कारण ऐसे ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म की सलाह दी जाती है जो दोनों का उपयोग करता है। पर यह देखने वाली बात है कि अधिकतर क्रिप्टो एक्सचेंजों में दोनों ऑप्शन्स नहीं मिलते हैं। पर इसमें ओलिंप ट्रेड जैसे ब्रोकर एक बेहतर विकल्प हैं जो दोनों सुविधाएँ देते हैं। 

5. अमेरिकी डॉलर कैनेडियन डॉलर (USD / CAD) के मुकाबले
यूएस डॉलर के मुकाबले कनाडाई डॉलर के दो महीने के ठोस लाभ के बाद ट्रेंड्स विपरीत हो गए हैं। अमेरिकी और कनाडाई सरकारों के आर्थिक आंकड़ों के आधार पर यह बदलाव निकट भविष्य के लिए नया मानदंड होगा। यूएस डॉलर अपने हुए शुरुआती नुकसान की भरपाई संभवत: अगले कई हफ्तों कर लेगा। इससे निवेशकों को अच्छा लाभ होने की उम्मीद है। इसी कारण कनाडाई डॉलर के निवेशक जब अपने स्टॉक बेचना शुरू करेंगे तो यह डॉलर के मजबूती के ट्रेंड को और आगे ले जाएगा।

दोनों सरकारों से आने वाली आर्थिक समाचारों को ध्यान में रखने की आवश्यकता होती है। इसके अलावा त्रैमासिक रिपोर्ट्स न आने से भी निवेशक लंबी अवधि के निवेश में लाभ कमा सकते हैं। ऐसे में जरूरी है कि अमेरिका, मैक्सिको और कनाडा के बीच होने वाले ट्रेड एग्रीमेंट्स पर खान नजर रखी जाए। निवेशक इस मुद्रा जोड़ी से कमाई का लाभ टाइमजोन्स के जरिए भी ले सकते हैं। ऐसे में जरूरी है कि एक ऐसे प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किया जाए जो सभी मार्केट्स में निवेश की सुविधा उपलब्ध कराता हो। बाजार की समझ, वित्त से जुड़ी खबरे और बाजार कैसे काम करता है यदि इन कुछ चीजों की जानकारी आपके पास होती है तो आप अच्छे निवेशकर बन अधिक लाभ ले सकते हैं। - 2 Basic Strategies for Trading Forex

Source: ओलिंप ट्रेड

साप्ताहिक राशिफल: कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 09 दिसंबर से 15 दिसंबर तक


मेष लग्नराशि (Aries) : ➤ कलाशान्ति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 09 दिसम्बर से 15 दिसम्बर तक:- ॐ इस सप्ताह मेष राशि के जातक एव जातिकाओं की शुरुआत अच्छे लाभ प्राप्ति के साथ हो सकती है। इस हफ्ते कार्यक्षेत्र मैं कार्यो को लेकर दौड़ भाग अधिक बनी रह सकती है। हालांकि उच्चाधिकारियों तथा सहकर्मियों का सहयोग समय-समय पर आपको मिलता रहेगा। इस हफ्ते आप अपने भाई-बहनों की सेहत तथा उनकी किसी परेशानी को लेकर चिंतित हो सकते है। धन प्राप्ति के लिहाज से यह हफ्ता अच्छा कहा जा सकता है। इस हफ्ते के मध्य मैं चिंता तथा तनाव उत्पन्न हो सकते है। छात्र वर्ग को प्रतियोगी परीक्षा मैं सफलता प्राप्त हो सकती है। पारिवारिक तथा दाम्पत्य जीवन सामान्य बना रहेगा।

वृषभ लग्नराशि (Taurus) : ➤ कलाशान्ति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 09 दिसम्बर से 15 दिसम्बर तक:- ॐ इस सप्ताह वृषभ राशि के जातको को संतान सुख की प्राप्ति हो सकती है। नौकरी तथा व्यापार को लेकर स्तिथियाँ अच्छी बनी रहेगी। व्यापारी वर्ग के जातको के लिए हफ्ता अच्छा मुनाफा देने वाला बना रह सकता है। हफ्ते के मध्य मैं अपनी सेहत का ध्यान रखे आप मानसिक रूप से परेशान हो सकते है। जीवनसाथी के साथ वैचारिक मतभेद उत्पन्न हो सकते है। हफ्ते के इस भाग मैं अपने क्रोध तथा वाणी व्यवहार पर संयम बनाये रखे अन्यथा दिक्क़ते मिल सकती है। हफ्ते का अंतिम भाग अचानक धन का लाभ करा सकता है। कोई शुभ समाचार आपको प्रसन्न कर सकता है।

मिथुन लग्नराशि (Gemini) : ➤ कलाशान्ति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 09 दिसम्बर से 15 दिसम्बर तक:- ॐ इस सप्ताह मिथुन राशि के जातको को कुटुंब के लोगो के साथ प्रेम भाव बढ़ सकता है। भाइयों का सहयोग प्राप्त होगा। इस हफ्ते रुका हुआ धन मिलने से आपकी आर्थिक स्थिति मैं बढ़ोत्तरी हो सकती है। नौकरी वर्ग के लोगो को थोड़ा उतार चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। कार्यक्षेत्र से सम्बंधित यात्राओं के योग रहेंगे। हफ्ते के मध्य में शारीरिक कष्ट तथा मन बेचैन हो सकता है। इस हफ्ते वैवाहिक जीवन मैं थोड़ा संभलकर रहने की सलाह दी जाती है। इस हफ्ते आपके द्वारा की गयी मेहनत का पूर्ण फल आपको प्राप्त होगा। छात्र वर्ग को कुछ अधिक परिश्रम करना पद सकता है।

कर्क लग्नराशि (Cancer) : ➤ कलाशान्ति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 09 दिसम्बर से 15 दिसम्बर तक:- ॐ इस सप्ताह कर्क राशि के जातको को अनेक स्त्रोतों से धन लाभ की प्राप्ति मिल सकती है। इस हफ्ते आय के नए साधन आपको प्राप्त हो सकते है। छात्र वर्ग को यह हफ्ता अच्छी सफलता देने वाला सिद्ध हो सकता है। दी गयी परीक्षाओं मैं आपको सकारात्मक परिणाम प्राप्त हो सकते है। हफ्ते का बीच का भाग आपको सेहत से सम्बंधित कुछ दिक्क़ते दे सकता है। यात्राओं मैं शारीरिक परेशानी मिल सकती है। व्यर्थ के खर्चे आपको परेशान कर सकते है। इस हफ्ते आप अपना पारिवारिक तथा वैवाहिक जीवन बहुत अच्छा व्यतीत करेंगे। संतान सम्बन्धी कोई शुभ समाचार आपको मिल सकता है।

सिंह लग्नराशि (Leo) : ➤ कलाशान्ति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 09 दिसम्बर से 15 दिसम्बर तक:- ॐ इस सप्ताह सिंह राशि के जातको को धन तथा सुखों की प्राप्ति होगी। पारिवारिक जीवन सुखद रहेगा अगर कोई समस्या बनी हुई थी तो उसका निराकरण इस हफ्ते हो सकता है। नौकरी तथा व्यापार को लेकर कोई अच्छी खबर इस हफ्ते आपको मिल सकती है। अधिकारी वर्ग इस हफ्ते आप पर मेहरबान बने रह सकते है। छात्र वर्ग इस हफ्ते अपनी पढ़ाई को लेकर कुछ असमंजस मैं बने रह सकते है। संतान से सम्बंधित कोई समस्या आपको परेशान कर सकती है।

कन्या लग्नराशि (Virgo) : ➤ कलाशान्ति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 09 दिसम्बर से 15 दिसम्बर तक:- ॐ इस सप्ताह कन्या राशि के जातको के आत्मविश्वास मैं वृद्धि होगी। नौकरी पेशा वर्ग के जातको को अपने कार्यक्षेत्र मैं सफलता की प्राप्त होगी। इस हफ्ते कार्यक्षेत्र मैं अधिकारी वर्ग तथा सहकर्मियों के साथ मधुरता बनाये रखे। इस राशि से सम्बंधित कुछ जातको के कार्यक्षेत्र मैं बदलाव हो सकते है। शारीरिक परेशानिया से छुटकारा मिल सकता है। स्वास्थ्य उत्तम बना रहेगा। माता की सेहत का ध्यान रखे। इस हफ्ते मकान तथा किसी निवेश द्वारा आपको लाभ प्राप्त हो सकता है। जीवनसाथी के साथ स्तिथियाँ अच्छी हो सकती है। धन सम्बन्धी विषयो मैं इस हफ्ते आपको अच्छे परिणाम प्राप्त हो सकते है।

तुला लग्नराशि (Libra) : ➤ कलाशान्ति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 09 दिसम्बर से 15 दिसम्बर तक:- ॐ इस सप्ताह तुला राशि के जातको को शुरुआती दिनों मैं कुछ शारीरिक दिक्क़ते बनी रह सकती है। अतः अपने खान-पान का उचित ध्यान रखे। इस हफ्ते आप अपनी वाणी की मधुरता के चलते लोगो से आसानी के अपने कार्य पूर्ण करा सकते है। इस हफ्ते भाइयो के कार्य तथा उनकी सेहत को लेकर चिंतित हो सकते है। कार्यक्षेत्र मैं स्तिथिया आपके अनुरूप बनी रहेगी। नौकरी कर रहे जातको को आगे बढ़ने के नए अवसरों की प्राप्ति हो सकती है। इस हफ्ते आपका पारिवारिक तथा वैवाहिक जीवन अच्छा तथा सुखमय बना रहेगा। धार्मिक कार्यो मैं रूचि बढ़ेगी।

वृश्चिक लग्नराशि (Scorpio) : ➤ कलाशान्ति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 09 दिसम्बर से 15 दिसम्बर तक:- ॐ इस सप्ताह वृश्चिक राशि के जातक को कार्यो मैं सफलता हेतु अधिक परिश्रम करना पड़ सकता है। इस हफ्ते कार्यो को लेकर मन में बेचैनी बनी रह सकती है। इस हफ्ते पारिवारिक सदस्यों के साथ प्रेम भाव तथा सामंजस्य बनाये रखे लाभकारी रहेगा। व्यापार कर रहे जातको को कुछ अच्छे लाभ की प्राप्ति हो सकती है। सेहत का ध्यान रखे अधिक दौड़भाग के चलते शारीरिक थकान हो सकती है। इस हफ्ते जीवनसाथी का सहयोग कार्यो मैं आपके लिए मददगार साबित हो सकता है। छात्रों के लिए हफ्ता सफलता भरा रह सकता है। धन सम्बन्धी दिक्क़ते इस हफ्ते कम हो सकती है।

धनु लग्नराशि (Sagittarius) : ➤ कलाशान्ति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 09 दिसम्बर से 15 दिसम्बर तक:-ॐ इस सप्ताह धनु राशि के जातको को कार्यक्षेत्र मैं कुछ नयी जिम्मेदारियाँ मिल सकती है। इस हफ्ते विरोधीपक्ष आप पर हावी होने की कोशिश कर सकता है, अतः सतर्क रहे। व्यापारी वर्ग के लोगो को इस हफ्ते अपने साझेदारो के साथ कुछ दिक्क्तों का सामना करना पड़ सकता है। वैवाहिक जीवन मैं समस्या बढ़ सकती है अतः जीवनसाथी को उचित समय दे। इस हफ्ते कार्यो को लेकर पूर्ण सोच विचार के उपरांत किसी नतीजे पर पहुंचे। किसी भी प्रकार के नकारात्मक विचारो से दूर रहे। परिजन आपकी मदद के लिए आगे आ सकते है। इस हफ्ते यात्राओं की अधिकता बनी रह सकती है। धन का व्यय भी अधिक रहेगा।

मकर लग्नराशि (Capricorn) : ➤ कलाशान्ति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 09 दिसम्बर से 15 दिसम्बर तक:-ॐ इस सप्ताह मकर राशि के जातको की आय मैं वृद्धि हो सकती है। इनकम के नए मार्ग आपको प्राप्त हो सकते है। छात्र वर्ग को इस हफ्ते अच्छे परिणाम प्राप्त हो सकते है। इस हफ्ते परीक्षाओं के परिणाम आपके पक्ष मैं आ सकते है। व्यापारी वर्ग के लोग इस हफ्ते अच्छे मुनाफे प्राप्त कर सकते है। प्रेम-सम्बन्धो को लेकर इस हफ्ते स्थितियाँ आपके मनोकुल बनेगी। सुखो में वृद्धि हो सकती है तथा उपहार प्राप्ति के योग बनेगे। संतान के कार्यो से प्रसन्न होंगे। हफ्ते के मध्य मैं आपके खर्चो मैं वृद्धि हो सकती है। स्वास्थ्य के लिहाज से हड्डियों तथा मांसपेशियों से सम्बंधित कोई परेशानी उभर सकती है।

कुंभ लग्नराशि (Aquarius) : ➤ कलाशान्ति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 09 दिसम्बर से 15 दिसम्बर तक:- ॐ इस सप्ताह कुंभ राशि के जातको को कार्यक्षेत्र मैं अधिक परिश्रम करना पड़ सकता है। कार्यस्थल पर काम का बोझ आप पर अधिक बना रह सकता है। भौतिक सुख सुविधाओं मैं वृद्धि के आसार बन सकते है। अचानक धन प्राप्ति के योग बन सकते है। इस हफ्ते आपका नए लोगो से मिलना जुलना हो सकता है जो भविष्य मैं आपके लिए लाभकारी हो सकता है। छात्र वर्ग के लिए हफ्ता सामान्य तथा कम लाभ वाला रहेगा। इस हफ्ते प्रेम-सम्बन्धो को लेकर स्तिथिया कुछ गड़बड़ा सकती है। जीवनसाथी को इस हफ्ते नौकरी मैं अच्छा लाभ प्राप्त हो सकता है। संतान का ध्यान रखे।

मीन लग्नराशि (Pisces) : ➤ कलाशान्ति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 09 दिसम्बर से 15 दिसम्बर तक:- ॐ इस सप्ताह मीन राशि के जातको के आत्मविश्वास मैं वृद्धि होगी। नौकरी कर रहे जातको के लिए हफ्ता सामान्य बना रहेगा। व्यापारी वर्ग के लोगो को इस हफ्ते अच्छे लाभ प्राप्त हो सकते है। इस हफ्ते कार्यो को लेकर नयी योजनाए बनाएँगे तथा उन पर अमल भी कर सकते है। विद्यार्थियों के लिए हफ्ता अच्छा बना रह सकता है। प्रेम-सम्बंधो को लेकर ये सप्ताह अच्छा बना रह सकता है। माता का भरपूर सहयोग आपको प्राप्त होगा। हफ्ते के मध्य मैं कुछ चिंताए तथा तनाव प्राप्त हो सकते है अतः सचेत रहे। वैवाहिक जीवन अच्छा बना रहेगा। हफ्ते का अंतिम भाग धन लाभ देने वाला हो सकता है। 

कलाशान्ति ज्योतिष
Call: - +91-6261231618

"द सीरियस बिज़नेस ऑफ़ स्माल टॉक" में जाने बीपीओ व्यवसाय के बारे में श्रीमती इंदु श्रोत्री के साथ


डिजिटल डेस्क। The Serious Business ऑफ Small Talk में आज बीपीओ व्यवसाय पर श्रीमती इंदु श्रोत्री की सफलता की कहानी प्रस्तुत की गई कि किस तरह से रिटायरमेंट के बाद कोई सीनियर सिटीजन, सफल उद्यमी बन सकता है तथा छोटे शहरों से बीपीओ का सफल व्यवसाय आरम्भ कर सकता है। अधिक जानकारी के लिए सब्सक्राइब करे Youtube चैनल - Business Ideas Prem Dubey