comScore

जम्मू-कश्मीर में रिसार्ट खोलने जल्द जमीन खरीदेगी महाराष्ट्र सरकार

जम्मू-कश्मीर में रिसार्ट खोलने जल्द जमीन खरीदेगी महाराष्ट्र सरकार

डिजिटल डेस्क, मुंबई। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 खत्म होने के बाद महाराष्ट्र वहां अपना रिसार्ट खोलने वाला पहला राज्य होगा। राज्य मंत्रिमंडल ने महाराष्ट्र पर्यटन विकास निगम (एमटीडीसी) के इस फैसले पर मुहर लगा दी है। राज्य के पर्यटन मंत्री जय कुमार रावल ने बताया कि एमटीडीसी जम्मू के पहलगाम और लद्दाख में रिसार्ट बनाने के लिए अगले 15 दिन में जगह लेकर सर्वे का कार्य शुरु करेगा। उन्होंने बताया कि फिलहाल इसके लिए अभी एक-एक करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। रावल ने कहा कि इससे अमरनाथ और वैष्णो देवी जाने वाले पर्यटकों और श्रद्धालुओं को फायदा होगा। गौरतलब है कि केंद्र सरकार द्वारा अनुच्छेद 370 को हटाने के फैसला के बाद ही महाराष्ट्र के पर्यटन मंत्री रावल ने कश्मीर में रिसार्ट खोलने का एलान किया था। मंगलवार को रावल ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि जैसे ही दोनों राज्यों में उप-राज्यपाल की नियुक्ति होगी, हम कोशिश करेंगे कि वहां जमीनें खरीद सकें। हम हर केंद्र शासित प्रदेशों में जमीनें खरीद सकते हैं लेकिन, अनुच्छेद 370 और 35-ए की वजह से कश्मीर में जगह खरीदना संभव नहीं था। पर अब यह समस्या खत्म हो गई है।  

 

पंचगनी के पास पुस्तकों के गांव को मिलेंगी अधिक सुविधाएं

किताबें पढ़ने की आदत को बनाए रखने के लिए सातारा के भिलार में शुरू पुस्तकों के गांव के उपक्रम को अब स्वतंत्र योजना में रुपांतरित करने को राज्य मंत्रिमंडल ने मंजूरी दी है। इससे पाठकों और पर्यटकों को भिलार गांव में अधिक सुविधा उपलब्ध हो सकेंगी। अब इसके लिए बजट में अलग से धनराशि का प्रावधान किया जा सकेगा। यह गांव महाराष्ट्र के पर्यटन स्थल पंचगनी के समीप स्थित है। भिलार में 4 मई 2017 से ‘पुस्तकों का गांव’ उपक्रम शुरू किया गया था। पिछले दो सालों में ‘पुस्तकों के गांव’ में डेढ़ लाख से अधिक पाठक और पर्यटक पहुंचे हैं। बढ़ते प्रतिसाद को ध्यान में रखते हुए इस उपक्रम को साल  2019-20 से योजना में रुपांतरित करने का फैसला किया गया है। मंत्रिमंडल ने योजना के लिए जरूरी खर्च समेत 5 पदों के निर्माण को मंजूरी दी है। 

 

कमेंट करें
DkETX