comScore

भाई पर आयकर छापे से भड़कीं मायावती, बोली- अपने गिरेबां में झांके बीजेपी

भाई पर आयकर छापे से भड़कीं मायावती, बोली- अपने गिरेबां में झांके बीजेपी

हाईलाइट

  • बसपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष आनंद कुमार पर आयकर विभाग की कार्रवाई से नाराज मायावती
  • प्रेस कांफ्रेंस में मोदी सरकार पर साधा निशाना
  • मायावती ने पीएम मोदी पर सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष आनंद कुमार पर आयकर विभाग की कार्रवाई पर मायावती भड़क गई हैं। आज (शुक्रवार) सुबह प्रेस कांफ्रेंस में मायावती केन्द्र की मोदी सरकार पर जमकर बरसीं। उन्होंने पीएम मोदी पर सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया है। मायावती ने कहा कि इस तरह का कदम उठाने से पहले बीजेपी को अपने गिरेबां में झांकना चाहिए। बीजेपी नेताओं पर निशाना साधते हुए बसपा प्रमुख ने कहा कि अगर वे सोचते हैं कि वे बहुत ईमानदार हैं तो इसकी जांच होनी चाहिए कि राजनीति में आने से पहले उनके (बीजेपी नेताओं) परिवार की संपत्ति कितनी थी और वह संपत्ति अब कितनी है? इसका ब्यौरा दिया जाना चाहिए।

मायावती ने मोदी सरकार और बीजेपी पर निशाना साधाते हुए कहा कि शोषितों-वंचितों के आगे बढ़ने से इन्हें तकलीक होती है। खुद को हरिशचंद्र मानने वाली बीजेपी बताए चुनाव के वक्त उनके पास 2 हजार करोड़ रुपये कहां से आए, ये बेनामी संपत्ति नहीं ? जब बात बीजेपी नेताओं की आती है तो मोदी सरकार मौन धारण कर लेती है। मायावती ने आरोप लगाया कि बीजेपी ने वोट खरीद कर और ईवीएम के इस्तेमाल से सत्ता हासिल की है। लोकसभा चुनाव के दौरान 2000 करोड़ से ज्यादा बीजेपी के खाते में आए, लेकिन इसका अब तक खुलासा नहीं हुआ। इसकी भी जांच होनी चाहिए।

बता दें कि कल (गुरुवार) को बसपा सुप्रीमो मायावती के भाई और पार्टी उपाध्यक्ष आनंद कुमार और उनकी पत्नी के खिलाफ आयकर विभाग ने बड़ी कार्रवाई की है। आयकर विभाग ने 400 करोड़ रुपये के एक बेनामी प्लॉट को जब्त किया है। सात एकड़ का यह प्लॉट नोएडा में है। दरअसल, आयकर विभाग मायावती के भाई आनंद कुमार की संपत्ति की जांच कर रहा था। इस जांच में पता चला कि, आनंद कुमार के पास नोएडा में एक बेनामी प्लॉट है। सात एकड़ में फैले इस प्लॉट की कीमत करीब 400 करोड़ रुपये है।

जानकारी के मुताबिक, आनंद कुमार और उनकी पत्नी विचित्र लता के इस बेनामी प्लॉट को जब्त करने का आदेश 16 जुलाई को विभाग की दिल्ली स्थित बेनामी निषेध इकाई (बीपीयू) ने जारी किया था। आज (18 जुलाई) आयकर विभाग ने प्लॉट को जब्त कर लिया। आयकर विभाग का दावा है कि, आनंद कुमार की कुछ और बेनामी संपत्तियों की जानकारी उनके पास है, जिसे भविष्य में जब्त किया जा सकता है। आयकर विभाग के अलावा इस मामले की जांच ईडी भी कर रही है।

आयकर विभाग के मुताबिक, मायावती के भाई आनंद कुमार की 1,300 करोड़ रुपये की संपत्ति की जांच चल रही है। आयकर विभाग के अनुसार, आनंद कुमार की संपत्ति में 2007 से 2014 तक 18,000 फीसदी की वृद्धि हुई है। उनकी संपत्ति 7.1 करोड़ रुपये से बढ़कर 1,300 करोड़ रुपये पहुंच गई है। 12 कंपनियां आयकर विभाग की जांच के दायरे में है, जिसमें आनंद कुमार निदेशक हैं।

कमेंट करें
lDKj2