comScore

दिल्ली में गर्मी ने तोड़ा पांच साल का रिकॉर्ड, मुंबई में राहत की बारिश


हाईलाइट

  • राजधानी दिल्ली में तापमान पहुंचा 48 डिग्री सेल्सियस
  • राजस्थान के चुरु में एक बार फिर तापमान 50 डिग्री
  • मुंबई में राहत की बारिश के चलते कई ट्रेनें देरी से चलीं

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। मानसून केरल में दस्तक दे चुका है, लेकिन आधा से ज्यादा देश अभी भी सूरज की आग में तप रहा है। भीषण गर्मी के प्रकोप से लोग बेहाल हैं। राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, बिहार और दिल्ली समेत देश के कई राज्यों में गर्म हवाओं का दौर जारी है। राजस्थान के चुरू में तापमान ने एक बार फिर 50 डिग्री सेल्सियस का आंकड़ा छू लिया है। इस गर्मी से फिलहाल कोई राहत मिलने की संभावना नहीं है।

बात करें राजधानी दिल्ली की तो यहां गर्मी ने पांच साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। मौसम विभाग के पालम स्थित केंद्र में अधिकतम तापमान 48 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इससे पहले वर्ष 2014 की नौ जून को 47.8 डिग्री दर्ज किया गया था जो कि जून माह में सबसे ज्यादा था। 

मुंबई में राहत
एक ओर जहां दिल्ली 48 डिग्री तापमान में झुलस रही है। वहीं दूसरी ओर मायानगरी मुंबई में तेज बारिश ने कुछ राहत दे दी है। मानसून की पहली बारिश और खराब मौसम की वजह से मुंबई एयरपोर्ट से कम से कम 11 विमानों को डायवर्ट किया गया। तेज बारिश से जहां लोगों को राहत मिली तो इसका असर रेल सेवा पर भी देखने को मिला। कई ट्रेनें देरी से चल रही हैं। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक, जल्द ही मुंबईकरों को फिर से बारिश देखने को मिल सकती है। अरब सागर में बन रहे कम दबाव का क्षेत्र डिप्रेशन में बदल चुका है, जो ‘वायु’ तूफान के रूप में ऊपर की ओर बढ़ेगा। 

दिल्ली में आफत
दिल्ली में सोमवार को पारा 48 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। मौसम विभाग के मुताबिक, पिछले पांच सालों में जून का यह दिन सबसे गर्म रहा। इससे पहले जून 2014 में 47.8 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया था। दिल्ली में आज का न्यूनतम तापमान 30.2 डिग्री सेल्सियस रहा जो सामान्य से दो डिग्री अधिक है। दिल्ली में लोग लू की लपटों में आने से लोग बीमार पड़ रहे हैं। गर्मी के इस कहर से निजात पाने के लिए अब दिल्लीवासियों को मुंबई की तरह बारिश से आस है। 

हिमाचल में गर्मी का कहर
ठंडा प्रदेश कहा जाने वाला हिमाचल अब गर्मी के प्रकोप का सामना कर रहा है। हिमाचल में गर्मी का 14 साल का रिकॉर्ड टूटा है। यहां ऊना में अधिकतम तापमान 45.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान वैज्ञानिकों के मुताबिक सोमवार का दिन सबसे गर्म रहा। इससे पहले 21 जून 2005 को 45.2 डिग्री दर्ज हुआ था। ऊना में सोमवार को तापमान सामान्य से 7 डिग्री अधिक रहा।

यूपी-बिहार में गर्मी का प्रकोप
केरल राज्य में लोगों ने बारिश की चलते राहत की सांस ली है। वहीं यूपी-बिहार में लोगों की हालत खराब हो चुकी है। सुबह 10 बजे के बाद से सड़कों पर वाहनों की अवाजाही कम देखने को मिल रही है। लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकल रहे है। फिलहाल गर्मी का प्रकोप अगले कुछ दिनों तक जारी रहेगा। इस बार मानसून के देरी से आने के चलते भी लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वातावरण में उमस भरी गर्मी का दौर रहेगा। 

मध्य प्रदेश में 45 से 47 के बीच तापमान 
मध्य प्रदेश में गर्मी के प्रचंड प्रकोप की वजह से लोग बेहाल हो चुके हैं। यहां ज्यादातर शहरों में तापमान 45 से 47 डिग्री के बीच बना हुआ है। मौसम विभाग के मुताबिक, पश्चिम दिशा से आ रही हवाओं ने तापमान में बढ़ोतरी करने के साथ गर्मी और लू के प्रभाव को बढ़ा दिया है। बीते 24 घंटों में नौगांव 47.9 डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ सबसे गर्म स्थान रहा। आगामी 24 घंटों के दौरान मौसम शुष्क रहेगा। तापमान में गिरावट के आसार कम हैं। कुछ स्थानों पर गरज-चमक के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है।

तापमान में आएगी गिरावट, जारी रहेगी लू
मौसम विभाग के मुताबिक रूखी पछुआ हवाओं, पश्चिम विक्षोभ का मैदानी इलाकों पर कोई प्रभाव नहीं होना और जून के महीने की भीषण गर्मी के कारण तापमान इतना ज्यादा हुआ है। उन्होंने कहा कि दक्षिण-पश्चिमी हवाओं के कारण संभवत: आज तापमान में एक-दो डिग्री सेल्सियस की गिरावट आए, लेकिन लू चलना जारी रहेगा।

केरल में सक्रिय हुआ मानसून
केरल में दक्षिण-पश्चिम मानसून जहां दस्‍तक दे चुका है, वहीं अरब सागर के ऊपर निम्न दबाव वाला क्षेत्र बना हुआ है, जो गहराता जा रहा है। अरब सागर के ऊपर गहराते निम्‍न दबाव वाले क्षेत्र के बीच यहां तेजी से चक्रवात की स्थिति बनती जा रही है। मौसम विभाग ने केरल और कर्नाटक के तटीय इलाकों में अगले तीन दिनों में भारी बारिश का अनुमान जताया है तो मछुआरों को कुछ दिनों तक मछली पकड़ने के लिए समुद्र में नहीं उतरने की सलाह दी है। लाकों में अगले तीन दिनों में भारी बारिश का अनुमान जताया है तो मछुआरों को कुछ दिनों तक मछली पकड़ने के लिए समुद्र में नहीं उतरने की सलाह दी है।

कमेंट करें
AhgL0