comScore

मुनगंटीवार ने बताईं स्वतंत्र विदर्भ की कुछ अड़चने, देशमुख बोले अब बीजेपी भुनाए मौका

January 23rd, 2018 21:42 IST
मुनगंटीवार ने बताईं स्वतंत्र विदर्भ की कुछ अड़चने, देशमुख बोले अब बीजेपी भुनाए मौका

डिजिटल डेस्क, मुंबई। अलग स्वतंत्र के लिए विधानमंडल में एक मत से प्रस्ताव पारित होना जरूरी होगा। यह केवल शिवसेना-बीजेपी का विषय नहीं है। इसमें कई तरह की कानूनी अड़चने भी हैं। यह बात बीजेपी के वरिष्ठ नेता व राज्य के वित्तमंत्री सुधीर मुनगंटीवार मने ने कही। मुनगंटीवार बीजेपी विधायक आशिष देशमुख के बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे थे। इस बीच मंगलवार को शिवसेना द्वारा अपनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में बीजेपी से अलग होकर लोकसभा व विधानसभा चुनाव लड़ने का प्रस्ताव पारित होने के बाद बीजेपी विधायक आशिष देशमुख ने अलग विदर्भ राज्य का मुद्दा उठाया।


शिवसेना अलग, अब बीजेपी बनाए अलग विदर्भ: देशमुख 

देशमुख ने कहा कि शिवसेना के अपने बल पर चुनाव लड़ने के फैसले को बीजेपी एक मौका माने और अलग विदर्भ राज्य का गठन करें। देशमुख ने कहा कि शिवसेना हमेशा से अलग विदर्भ की विरोधी रही है। शिवसेना ने अलग चुनाव लड़ने की घोषणा कर बीजेपी को अपनी भूमिका पर चलने का मौका दे दिया है। नागपुर से बीजेपी विधायक देशमुख ने कहा कि स्वतंत्र विदर्भ राज्य का समर्थन करने के चलते विदर्भ में 65 में से 44 सीटो पर बीजेपी के विधायक चुन कर आए। इसके बावजूद बीजेपी ने सत्ता मिलने के बाद स्वतंत्र विदर्भ राज्य बनाने की दिशा में कुछ नहीं किया। देशमुख ने कहा कि बीजेपी विदर्भ के लोगों की भावनाओं के साथ खिलवाड कर रही है। यदि स्वतंत्र विदर्भ राज्य नहीं बना तो बीजेपी को नुकसान उठाना पड़ेगा।   


विदर्भ आर्थिक रूप से सक्षम नहीं

इससे पहले केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा था कि जब तक विदर्भ आर्थिक रूप से सक्षम नहीं हो जाता, तब तक स्वतंत्र राज्य बनाना ठीक नहीं है। उन्होंने कहा था कि विदर्भ का किसान आर्थिक रूप से सक्षम होना चाहिए। आर्थिक रूप से सक्षम होने से पहले स्वतंत्र विदर्भ राज्य बनाना ठीक नहीं होगा। विदर्भ में विकास के अनेक प्रकल्प शुरू किए गए हैं। इन प्रकल्पों के बल पर विदर्भ सक्षम होगा।


 

Loading...
कमेंट करें
w2smH