comScore

'पद्मावती' विवाद: आजम खान बोले- विरोध करने वाले राजपूत उठाते थे अंग्रेजों के बस्ते

November 21st, 2017 20:34 IST
'पद्मावती' विवाद: आजम खान बोले- विरोध करने वाले राजपूत उठाते थे अंग्रेजों के बस्ते

डिजिटल डेस्क, रामपुर। एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण की फिल्म 'पद्मावती' पर चल रहे विवादों और विरोधों के बाद कई राज्यों ने इसे बैन कर दिया तो दूसरी ओर फिल्म को राजनेताओं का समर्थन भी मिलने लगा है। बंगाल की सीएम ममता के बाद यूपी के पूर्व मंत्री आजम खान भी 'पद्मावती' के समर्थन में उतर आए हैं। खान ने 'पद्मावती' का विरोध करने वालों को आड़े हाथ लेते हुए अंग्रेजों के बस्ते उठाने वाला बता दिया। वहीं दूसरी ओर संगीतकार जावेद अख्तर के खिलाफ जयपुर के वकील प्रताप सिंह शेखावत ने सिंधी कैंप थाने में FIR दर्ज हो गई है। गौरतलब है कि अख्तर ने एक इंटरव्यू में राजपूतों को अंग्रेजों का गुलाम बताया था।

गौरतलब है कि यूपी में नगर निकाय चुनाव चल रहे हैं और इसी को लेकर मंगलवार को आजम खान रामपुर में रैली कर रहे थे। आजम खान ने कहा कि हिन्दुस्तान के कई नवाब और राजा अंग्रेजों के एजेन्ट थे। अंग्रेजों के समय में नवाबों की नवाबी और राजाओं की रियासतें चली गईं और जो लोग आज पद्मावती का विरोध कर रहे हैं वे कभी अंग्रेजों के बस्ते उठाया करते थे।

आपको बता दें कि फिल्म को लेकर विवाद और विरोध भी बढ़ते जा रहे हैं। पूरे देश में राजपूत संगठन फिल्म का विरोध करने पर उतर आए हैं। राजस्थान से शुरू हुआ यह विरोध यूपी, एमपी, पंजाब, महाराष्ट्र, कर्नाटक आदि राज्यों तक पहुंच गया है। विभिन्न संगठनों के विरोध को देखते हुए राज्य सरकारों ने भी इस मामले में अपने हाथ खीच लिए हैं। वहीं दूसरी ओर पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने फिल्म का समर्थन करने का पूरा मन बना लिया है। सीएम ममता बनर्जी ने सोमवार को 'पद्मावती 'को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन को सुपर इमरजेंसी करार दिया था। 

'पद्मावती' को लेकर आजम खान यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि मुगल-ए- आजम फिल्म में हमारे इतिहास से छेड़छाड़ की गई थी लेकिन मुसलमानों ने इसका कोई विरोध नहीं किया क्योंकि हमारे इतिहास को एक फिल्म खराब नहीं कर सकती। खान ने एक्ट्रेस जयाप्रदा पर भी निशाना साधा, उन्होंने कहा कि फिल्में मजा लेने के लिए होती हैं और हमने "नौ लखा" गाने वाली एक अदाकारा को रामपुर से दो बार सांसद बनाया।

इससे पहले जावेद अख्तर के खिलाफ जयपुर के वकील प्रताप सिंह शेखावत ने सिंधी कैंप थाने में राजपूत समाज का अपमान करने की शिकायत की है। गौरतलब है कि जावेद अख्तर ने एक इंटरव्यू में कहा था कि राजस्थान के राजा-महाराजा 200 साल तक अंग्रेजों के दरबार में पगड़ी बांधकर खड़े रहे और उन्हें सलाम करते रहे। ऐसा करते समय राजपूती कहा गई थी और ये राजा अंग्रेजों की गुलामी करके ही बने हैं। इस पर शेखावत ने अपनी शिकायत में उनके बयान को विभिन्न जाति और समुदायों के बीच शत्रुता बढ़ाने वाला बताया है। पुलिस ने अख्तर के खिलाफ IPC की धारा 153 क,ख,ग और 295 क, 298, 504, 505 के तहत केस दर्ज कर लिया है। 

कमेंट करें
yHV0i