comScore

रांची: पीएम मोदी ने किया जन आरोग्य योजना ‘आयुष्मान भारत’ का शुभांरभ

September 23rd, 2018 18:44 IST
रांची: पीएम मोदी ने किया जन आरोग्य योजना ‘आयुष्मान भारत’ का शुभांरभ

हाईलाइट

  • पीएम मोदी ने रांची से शुरू की आयुष्मान भारत- जन आरोग्य योजना।
  • करीब 10.74 करोड़ गरीब परिवार लाभान्वित होंगे।
  • योजना का लक्ष्य प्रत्येक परिवार को सालाना 5 लाख रुपये की कवरेज प्रदान करना है।

डिजिटल डेस्क, रांची। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना 'प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना- आयुष्मान भारत' का शुभारंभ किया। झारखंड की राजधानी रांची के प्रभात तारा मैदान से इस योजना की शुरूआत की गई। पीएम ने यहां10 हेल्थ और वेलनेस सेंटर का शुभांरभ भी किया।



करोड़ों परिवारों को मिलेगा 5 लाख का स्वास्थ्य बीमा
आयुष्मान भारत योजना के तहत देश के करीब 10.74 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपये तक के मुफ्त स्वास्थ्य बीमा की सुविधा दी जाएगी। इन परिवारों के लोग दूसरी और तीसरी श्रेणी के तहत पैनल के अस्पतालों में जरूरत के हिसाब से भर्ती हो सकेंगे। इस योजना का नाम प्रधानमंत्री जन आरोग्य अभियान कर दिया गया है। 


पीएम मोदी ने लिखी खास चिट्ठी
योजना की शुरुआत से पहले पीएम मोदी ने आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों को खास चिट्ठी लिखी है। पीएम ने झारखंड के 57 लाख लोगों के नाम चिट्ठी लिखी है। इस पत्र में पीएम ने सभी को आयुष्मान योजना के बारे में बताया है। पीएम की इसी तरह की चिट्ठी जल्द ही देशभर में करीब 10.74 करोड़ लोगों को भी भेजी जाएगी। दो पेज की चिट्ठी में आयुष्मान भारत बीमा योजना के महत्व और फायदों के बारे में बताया गया है। 


झारखंड के 57 लाख परिवारों को मिलेगा लाभ  
झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास ने बताया, आयुष्मान भारत स्कीम की शुरुआत के बाद झारखंड के 68 लाख परिवारों में से 57 लाख को लाभ मिलेगा, जो कुल आबादी का 85 प्रतिशत है। सरकार बाकी बचे 15 फीसदी परिवारों से प्रीमियम लेकर उन्हें भी योजना में शामिल करने का प्रयास कर रही है।


14 हजार आरोग्य मित्रों की तैनाती
इस योजना की शुरुआत से देश के करीब 10 हजार सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में गरीबों के लिए 2.65 लाख बेड की सुविधा उपलब्ध हो जाएगी। इन 10 हजार अस्पतालों में वे ही शामिल होंगे, जो सरकार के पैनल में शामिल हैं। इसके अलावा अस्पतालों में 14 हजार आरोग्य मित्रों को तैनात किया गया है। ये मरीजों की पहचान सत्यापित करेंगे साथ ही इलाज के दौरान मरीजों की भी मदद करेंगे। लाभार्थियों के वेरिफिकेशन में इन आरोग्य मित्रों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी, इसके अलावा किसी भी पूछताछ और समस्याओं के समाधान के लिए भी मरीज आरोग्य मित्रों से संपर्क कर सकेंगे।


वेबसाइट और हेल्पलाइन नंबर की सुविधा
इस स्कीम के लिए नेशनल हेल्थ एजेंसी ने mera.pmjay.gov.in वेबसाइट की शुरुआत की है। इसके अलावा एक हेल्पलाइन नंबर 14555 भी शुरू किया गया है। इस हेल्पलाइन नंबर और वेबसाइट के जरिए लोग यह जान सकेंगे कि वे इस स्कीम का लाभ ले सकेंगे या नहीं। 

कमेंट करें
uiW64
कमेंट पढ़े
Arjun dhakad September 23rd, 2018 18:18 IST

bahut hi Achi or criyative news ham tak pahuchatr he