comScore

गुदा संबंधी बीमारियों से जुड़े अनुभव साझा कर रहे दुनियाभर के सर्जन, नई तकनीक पर भी हुई चर्चा

गुदा संबंधी बीमारियों से जुड़े अनुभव साझा कर रहे दुनियाभर के सर्जन, नई तकनीक पर भी हुई चर्चा

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मलाशय और गुदा संबंधी बीमारियों के इलाज से जुड़े अपने अनुभव साझा करने मुंबई में दुनियाभर से डॉक्टर जुटे। महानगर के ग्रैंड हयात होटल में में 31 अक्टूबर से 3 नवंबर तक हुए कार्यक्रम के दौरान डॉक्टरों ने इन बीमारियों से जुड़े अपने रिसर्च और अनुभव साझा किए। मुख्य अतिथि डॉक्टर संबित पात्रा के साथ कार्यक्रम में दुनियाभर के 900 सर्जन उपस्थित थे। आयोजन टीम के सचिव डॉक्टर निरंजन अग्रवाल के मुताबिक इंटरनेशनल सोसायटी ऑफ कॉलोन एंड रेक्टल सर्जन और एनुअल नेशनल कांफ्रेंस ऑफ एसोसिएशन ऑफ कॉलोन एंड रेक्टल सर्जन्स ऑफ इंडिया की पहली बार बैठक आयोजित की गई है। कार्यक्रम में शामिल हुए 900 प्रतिनिधियों में से 150 फैकल्टी मेंबर थे। बैठक के दौरान डॉक्टरों ने कॉलोन रेक्टल और गुदा संबंधी बीमारियों और उनके इलाज पर चर्चा की।

डॉक्टरों ने बीमारियों से जुड़े अपने रिसर्च भी एक दूसरे से साझा किए। सर्जनों ने इस दौरान बताया कि कैसे वे इलाज के दौरान नई तकनीक की मदद ले रहे हैं। कांफ्रेंस के दौरान कॉलोरेक्टल सर्जरी के प्रमुख भी उपस्थित थे। कॉलोप्रॉक्टोलॉजी से संबंधित अत्याधुनिक तकनीक पर चर्चा के दौरान चेंबूर के जेन अस्पताल से सर्जरी का कार्यक्रम स्थल पर सीधा प्रसारण भी किया गया। डॉक्टर अग्रवाल के मुताबिक बवासीर, भगंदर और गुदा कैंसर के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही हैं। मरीजों का बेहतर और अत्याधुनिक तरीके से इलाज किया जा सके इसीलिए डॉक्टरों ने एक साथ अपने अनुभव साझा करने की जरूरत महसूस की। 

कमेंट करें
6X27e