comScore

मुंबई का इतिहास बन चुका अंडरवर्ल्ड, अब तो आतंकवाद है बड़ी चुनौती - संजय बर्वे

मुंबई का इतिहास बन चुका अंडरवर्ल्ड, अब तो आतंकवाद है बड़ी चुनौती - संजय बर्वे

डिजिटल डेस्क, मुंबई। अंडरवर्ल्ड अब मुंबई के लिए इतिहास की बात हो चुका है अब इस शहर को सबसे बड़ा खतरा आतंकवाद से है। 26/11 आतंकी हमले के बाद शहर की सुरक्षा के लिए कई ठोस कदम उठाए गए हैं, जिससे इस चुनौती का मुकाबला करने के लिए भी मुंबई पुलिस पूरी तरह तैयार है। मुंबई पुलिस कमिश्नर संजय बर्वे ने दैनिक भास्कर से खास बातचीत में यह बात कही। चुनावों से ठीक पहले 28 फरवरी को देश के सबसे संवेदनशील शहर मुंबई की कमान संभालने वाले बर्वे ने कहा कि महानगर को अब गैंगवार, गिरोहों और गुर्गों से काफी हद तक छुटकारा मिल गया है। अंडरवर्ल्ड सरगना या तो शहर छोड़कर भाग गए हैं या जेलों में हैं। अब आतंकवाद मुंबई पुलिस के लिए सबसे बड़ी चुनौती है। उन्होंने कहा कि मुंबई में 26/11 आतंकी हमले के बाद आतंकवाद से लड़ने के लिए कई अहम कदम उठाए गए हैं। अब इस तरह से हमलों से निपटने के लिए फोर्स वन और क्विक रिस्पांस टीम (क्यूआरटी) है। इनमें तैनात जवानों को खास ट्रेनिंग दी जाती है। पुलिस के पास अब ज्यादा बेहतर और आधुनिक हथियार हैं साथ ही समुद्री सुरक्षा भी ज्यादा चुस्त दुरुस्त की गई है। बर्वे ने कहा कि शहर भर में लगे 5 हजार सीसीटीवी कैमरे भी अपराधियों पर शिकंजा सकने में मददगार साबित हो रहे हैं। इसके अलावा आतंकवाद पर लगाम लगाने के लिए पुलिस गुमराह युवकों की पहचान कर उन्हें फिर से मुख्य धारा में लाने की भी पूरी कोशिश कर रही है। महानगर में महिलाओं और बुजुर्गों के खिलाफ बढ़ती आपराधिक वारदातों पर बर्वे ने कहा कि अपनी तरफ से पुलिस इस पर लगाम लगाने की कोशिश कर रही है लेकिन कुछ समस्याएं सामाजिक होतीं हैं और इसमें बदलाव के लिए सभी लोगों को मिलकर प्रयास करने होते हैं। 

बदल रहा है अपराध का तरीका

बर्वे ने कहा कि बदलते समय के साथ अपराध का तरीका भी बदल रहा है। अब ऑनलाइन और आर्थिक अपराध बढ़ रहे हैं क्योंकि यह पुलिस और लोगों की नजर में आए बिना बंद कमरों में बैठकर किया जा सकता है। ऐसे अपराध शिक्षित लोग संगठित तरीके से अंजाम देते हैं लेकिन जो लोग अपराध के लिए तकनीक का सहारा लेते हैं वे अपने खिलाफ तकनीकी सबूत भी छोड़ते हैं। इसी के सहारे पुलिस ऐसे अपराधियों पर शिकंजा कसती है। हम आर्थिक और ऑनलाइन अपराधों पर शिकंजा कसने पर पूरा जोर दे रहे हैं। 

कमेंट करें
NaJuz