comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

आखिर शिवराज ने मेरी सरकार साजिश रचकर गिराने की बात मानी : कमल नाथ

June 10th, 2020 21:46 IST
आखिर शिवराज ने मेरी सरकार साजिश रचकर गिराने की बात मानी : कमल नाथ

हाईलाइट

  • आखिर शिवराज ने मेरी सरकार साजिश रचकर गिराने की बात मानी : कमल नाथ

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्यप्रदेश की सियासत में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कथित ऑडियो ने हलचल मचा दी है। इस ऑडियो के आधार पर पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने साजिश रचकर कांग्रेस की सरकार गिराने की बात की पुष्टि होने का दावा किया है। साथ ही पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने मौजूदा सरकार को तत्काल बर्खास्त करने की मांग की है।राज्य में एक ऑडियो वायरल हो रहा है। इस ऑडियो को आईएएनएस प्रमाणित नहीं करता है। इस ऑडियो में कथित तौर पर मुख्यमंत्री चौहान कह रहे हैं कि केंद्रीय नेतृत्व ने तय किया कि सरकार को गिरा दिया जाए। यह ऑडियो इंदौर की रेसीडेंसी कोठी में हुई भाजपा कार्यकर्ताओं की बैठक का बताया जा रहा है।

इस ऑडियो के आधार पर पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा, मैं तो शुरू दिन से ही कह रहा था कि भाजपा ने मेरी बहुमत व जनादेश प्राप्त सरकार को जानबूझकर साजिश-षड्यंत्र व प्रलोभन का खेल रचकर गिराया है, क्योंकि मेरी सरकार किसानों का कर्ज माफ कर रही थी, युवाओं को रोजगार दे रही थी, महिलाओं को सुरक्षा देकर उनके सम्मान की रक्षा कर रही थी। अब तो इस बात की पुष्टि भी हो गई और सच्चाई भी प्रदेश की जनता के सामने आ गई कि मेरी सरकार को गिराने के लिए किस तरह की साजिश व खेल रचा गया और उसमें कौन-कौन शामिल था।

कमल नाथ ने आगे कहा, जो लोग कहते थे कि कांग्रेस की सरकार के पास बहुमत नहीं था, वो अपने असंतोष से गिरी, हमने नहीं गिराई, उनके झूठ की पोल भी अब सभी के सामने खुल चुकी है। शिवराज ने 15 वर्ष झूठ के बल पर सरकार चलाई, जनता ने सबक भी सिखाया, लेकिन अभी भी वह निरंतर झूठ परोस रहे हैं। वहीं, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने मुख्यमंत्री शिवराज को इस बात के लिए धन्यवाद दिया है कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके नंबर दो द्वारा राज्य में चुनी हुई सरकार को अलोकतांत्रिक तरीके से गिराने की साजिश रचे जाने का पर्दाफाश किया है।

अजय सिंह ने राज्यपाल से राज्य की शिवराज सिंह चौहान की सरकार को तत्काल बर्खास्त करने की मांग की है। सिंह ने एक बयान जारी कर कहा, कमल नाथ सरकार को 15 माह के दौरान कई बार गिराने के प्रयास हुए। भाजपा ने कांग्रेस विधायकों को खरीदने के लिए साजिश रची। दुखद यह है कि भाजपा की इस साजिश और षड्यंत्र में कांग्रेस के प्रतिष्ठित नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया माध्यम बने। उनका यह कृत्य राज्य के राजनीतिक इतिहास में कलंक के रूप में दर्ज होगा। पूरे प्रदेश में वायरल हो रहे शिवराज के इस कथित ऑडियो में वह कह रहे हैं, केवल एक सवाल केंद्रीय नेतृत्व ने तय किया, जिसने सरकार को बर्बाद और तबाह कर दिया। आप बताओ कि ज्येातिरादित्य सिंधिया और तुलसी भाई के बिना सरकार गिर सकती थी क्या?

कमेंट करें
drY4K