दैनिक भास्कर हिंदी: UP विधानसभा चुनाव में 100 सीटों पर उम्मीदवार उतारेगी ओवैसी की पार्टी, भागीदारी संकल्प मोर्चा के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी

June 28th, 2021

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। AIMIM प्रमुख और हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने रविवार को घोषणा की कि उनकी पार्टी 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में 100 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। ओवैसी ने यह भी कहा कि उनकी पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) के संरक्षक ओम प्रकाश राजभर और उनके द्वारा गठित 'भागीदारी संकल्प मोर्चा' के साथ में चुनाव लड़ेगी। बता दें कि एआईएमआईएम और एसबीएसपी के अलावा, भागीदारी संकल्प मोर्चा में आठ अन्य पार्टियां शामिल हैं, जैसे कृष्णा पटेल की अपना दल, जन अधिकार पार्टी और चंद्रशेखर रावण की आजाद समाज पार्टी।

ओवैसी ने ट्वीट कर लिखा, उ.प्र. चुनाव को लेकर मैं कुछ बातें आपके सामने रख देना चाहता हूं:-

1) हमने फैसला लिया है कि हम 100 सीटों पर अपना उम्मीदवार खड़ा करेंगे, पार्टी ने उम्मीदवारों को चुनने का प्रक्रिया शुरू कर दी है और हमने उम्मीदवार आवेदन पत्र भी जारी कर दिया है।

2) हम @oprajbhar साहब 'भागीदारी संकल्प मोर्चा' के साथ हैं।
 
3) हमारी और किसी पार्टी से चुनाव या गठबंधन के सिलसिले में कोई बात नहीं हुई है।

 

Capture

पिछले साल के बिहार विधानसभा चुनावों में, एआईएमआईएम ने 20 सीटों पर चुनाव लड़ा और पांच पर जीत हासिल की - सभी मुस्लिम बहुल सीमांचल क्षेत्र में, जो पश्चिम बंगाल के साथ सीमा साझा करता है। हालांकि, पार्टी ने पश्चिम बंगाल और तमिलनाडु में हाल के विधानसभा चुनावों में एक रिक्त स्थान हासिल किया, जहां उसने क्रमशः सात और तीन सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए थे। पार्टी ने 2019 के महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में भी दो विधानसभा सीटें जीती थीं।

इससे पहले चर्चा थी कि मायावती की पार्टी बीएसपी और असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी में यूपी चुनाव को लेकर गठबंधन हो सकता है। हालांकि बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने इससे इनकार कर दिया। मायावती ने ट्वीट किया, 'एक न्यूज़ चैनल में कल से यह खबर प्रसारित की जा रही है कि यूपी में आगामी विधानसभा आम चुनाव ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम व बीएसपी मिलकर लड़ेगी। यह खबर पूर्णत: गलत, भ्रमक व तथ्यहीन है। इसमें खबर में रत्तीभर भी सच्चाई नहीं है तथा बीएसपी इसका जोरदार खंडन करती है।

मायावती ने कहा, वैसे इस संबंध में पार्टी द्वारा फिर से यह स्पष्ट किया जाता है कि पंजाब को छोड़कर, यूपी व उत्तराखण्ड प्रदेश में अगले वर्ष के प्रारंभ में होने वाला विधानसभा का यह चुनाव बीएसपी किसी भी पार्टी के साथ कोई भी गठबंधन करके नहीं लड़ेगी यानी अकेले ही लड़ेगी।

खबरें और भी हैं...