दीदी के नक्शेकदम पर अखिलेश: उत्तरप्रदेश में खेला होबे, अखिलेश यादव ने दी योगी को चुनौती, प. बंगाल की तर्ज पर साफ होगी बीजेपी!

December 3rd, 2021

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। पंश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने विधानसभा चुनाव के दौरान डट कर बीजेपी का सामना किया। बीजेपी ने तमाम हथकंडे अपनाएं। दीदी को सत्ता से बेदखल करने के लिए बीजेपी ने एड़ी चोटी का जोर लगाया। उनके खासमखास सुवेंदु अधिकारी को पार्टी में खींच लाए। इतनी मेहनत के बाद बीजेपी सिर्फ इतना कर सकी कि ममता बनर्जी को चुनाव नहीं जीतने दिया। इसके अलावा टीएमसी के ऑवरऑल प्रदर्शन के चलते तो बीजेपी ने मुंह की खाई। 
अब ममता बनर्जी अपने प्रदेश छोड़ कर अलग अलग राज्यों में जा रही हैं। हालांकि बंगाल में रहते तक उनके निशाने पर बीजेपी और बीजेपी की सरकारें रहीं। लेकिन बंगाल से बाहर निकलते ही प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से उनके निशाने पर कांग्रेस आ गई। दीदी अपने एजेंडे से जरा आगे पीछे हो गईं। या यूं कहें कि एजेंडा बीजेपी की जगह पहले कांग्रेस की मुश्किल ही बढ़ाने का होगा। 
दीदी का एजेंडा चाहें जो भी रहा हो। लेकिन उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उनके एजेंडे पर चल पड़े हैं। ममता बनर्जी फिलहाल यूपी पहुंची नहीं है। उनकी पार्टी उत्तरप्रदेश में सक्रिय नहीं है लिहाजा उनका यूपी चुनाव प्रचार करने जाना मुश्किल भी नजर आता है। लेकिन उनकी कमी को पूरा करने का बीड़ा उठाया है अखिलेश यादव ने। जिन्होंने ऐलान कर दिया है कि जैसे पश्चिम बंगाल में बीजेपी का सफाया हुआ उसी तरह उत्तरप्रदेश में बीजेपी का सफाया होगा। हालांकि इसके लिए उन्होंने बकायदा ममता दीदी को यूपी आने का न्यौता भी दे दिया है। ममता दीदी यूपी चुनाव प्रचार के लिए चली भी जाएं पर, किसके लिए चुनाव प्रचार करेंगी इस सवाल का जवाब अखिलेश यादव ही दे सकते हैं।