comScore

सभी मंत्रालय फुलप्रूफ रणनीति से जरूरतमंदों तक पहुंचाएंगे आर्थिक पैकेज का लाभ

May 18th, 2020 16:30 IST
 सभी मंत्रालय फुलप्रूफ रणनीति से जरूरतमंदों तक पहुंचाएंगे आर्थिक पैकेज का लाभ

हाईलाइट

  • सभी मंत्रालय फुलप्रूफ रणनीति से जरूरतमंदों तक पहुंचाएंगे आर्थिक पैकेज का लाभ

नई दिल्ली, 18 मई(आईएएनएस)। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के आवास पर सोमवार को ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स(जीओएम) की महत्वपूर्ण बैठक हुई। दोपहर सवा 12 बजे से शुरू हुई बैठक करीब डेढ़ घंटे तक चली। गृहमंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आदि केंद्रीय मंत्रियों की बैठक में केंद्र सरकार से घोषित 20 लाख करोड़ के भारी भरकम आर्थिक पैकेज को जनता तक सही से पहुंचाने को लेकर रणनीति बनी।

सूत्रों ने बताया कि मंत्री समूह की बैठक में तय हुआ कि पैकेज में जिन-जिन मंत्रालयों से जुड़ी घोषणाएं हैं, उसको लेकर वे जनता को जागरूक करते हुए जरूरतमंदों तक लाभ पहुंचाने की रणनीति बनाएंगे ताकि आर्थिक पैकेज से जुड़ी मोदी सरकार की मंशा सफल हो सके।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के आवास पर हुई इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह, वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण, स्मृति ईरानी, पीयूष गोयल, नरेंद्र सिंह तोमर, एस जयशंकर, हरदीप सिंह पुरी, अनुराग ठाकुर आदि केंद्रीय मंत्री मौजूद रहे। सूत्रों ने बताया कि इस बैठक में यह भी कहा गया कि पैकेज से जुड़े सभी हितधारकों से भी मंत्रालय संवाद करें और उनसे सही तस्वीर पेश करें। जनता के बीच पैकेज को आसान भाषा में बताना होगा ताकि सभी को लाभ मिल सके। मंत्रिसमूह की बैठक में सभी मंत्रालयों को आर्थिक पैकेज को धरातल पर उतारने के लिए फुलप्रूफ प्लानिंग बनाने का निर्देश जारी हुआ है।

बता दें कि मोदी सरकार ने आर्थिक संकट से हर वर्ग को उबारने के लिए देश की जीडीपी का दस प्रतिशत यानी 20 लाख करोड़ रुपये का आर्थिक पैकेज घोषित किया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले पांच दिनों से एक-एक कर सभी सेक्टर के लिए पैकेज के बारे में जानकारी दी। इसमें गांवों से लेकर उद्योग जगत के लिए कई राहत भरी घोषणाएं शामिल हैं।

गांवों में मनरेगा से रोजगार बढ़ाने के लिए वित्त मंत्री ने बजट 40 हजार करोड़ बढ़ाने की घोषणा की है। केंद्र सरकार ने कोयला, खनिज, रक्षा उत्पादन, हवाई क्षेत्र प्रबंधन, हवाई अड्डे, विद्युत वितरण, अंतरिक्ष, परमाणु ऊर्जा जैसे आठ सेक्टर के निजीकरण का भी ऐलान किया। मंत्री समूह की इस बैठक में केंद्र सरकार की ओर से अब तक घोषित राहत उपायों की समीक्षा भी हुई।

कमेंट करें
HLtxO