• Dainik Bhaskar Hindi
  • Politics
  • Always look at Jharkhand not from the point of view of extraction, but from the point of view of attraction: Hemant Soren

नई दिल्ली: झारखंड को हमेशा एक्सट्रेक्शन के नजरिये से नहीं, अट्रैक्शन के नजरिए से देखे दुनिया: हेमंत सोरेन

July 23rd, 2022

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। झारखण्ड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दिल्ली में शनिवार को राज्य की नयी पर्यटन नीति को लांच किया, कार्यक्रम में सीएम ने झारखंड को हमेशा एक्सट्रेक्शन के नजरिये से देखा गया है, लेकिन अब झारखंड को अट्रैक्शन के नजरिए से दुनिया देखे, यही हमारा लक्ष्य है।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री सोरेन ने टूरिज्म पॉलिसी के फायदे गिनाने के बाद टूरिज्म सेक्टर में निवेश करने वाले सभी निवेशकों से आग्रह करते हुए कहा, आप झारखंड आयें, पहले आओ और पहले पाओ के आधार पर पहले निवेश करने वाले निवेशकों को हम स्पेशल पैकेज भी देंगे।

कार्यक्रम की मेजबानी पर्यटन, कला- संस्कृति, खेल और युवा मामले विभाग, झारखंड सरकार और फेडरेशन आफ इंडियन चैंबर्स आफ कामर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) ने की। नई पर्यटन नीति के माध्यम से स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर भी मुहैया कराने का लक्ष्य है।

कार्यक्रम में सीएम सोरेन ने कहा, झारखंड टूरिज्म पॉलिसी को आज हमने लॉन्च किया है, झारखंड को आम तौर पर खनिज प्रदेश कहा जाता हैं और प्राकृतिक सौंदर्य, धार्मिक स्थल एक बड़ा क्षेत्र है। इन सब को ध्यान में रख अलग अलग क्षेत्रों को जोड़ने का हमने प्रयास किया है। राज्य में आदिवासी, जंगल, पहाड़, नदी से भरा यह राज्य है।

देश को आगे बढ़ाने में झारखण्ड प्रदेश की एक अहम भूमिका है, उसी प्रकार टुरीज्म के क्षेत्र से राज्य को एक नई दिशा देने का काम कर रहे हैं। लोगों की आवाजाही जब बढ़ेगी तो बहुत चीजों का आदान प्रदान भी होगा। आईएएनएस ने जब पर्यटकों की सुरक्षा पर सवाल किया तो सीएम हेमंत सोरेन ने कहा, झारखंड राज्य में किसी तरीके का कोई उदाहरण नहीं है जहां किसी पर्यटक के साथ कोई घटना घटी हो, मैं आश्वस्त करता हूं ना पहले कभी पर्यटक को पर कोई घटना घटी है और ना ही भविष्य में घटेगी।

हमारे देश में पर्यटक लाखों रुपये खर्च करके पहाड़ों की मनोरम वादियां देखने जाते हैं, मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि आप अगर हमारे प्रदेश के पहाड़ी पर्यटन स्थल नेतरहाट में आएंगे तो मनोरम वादियां एवं मनमोहक ²श्यों को देखकर आप मंत्रमुग्ध रह जाएंगे। कार्यक्रम में पोस्टकार्ड फ्राम झारखंड डाक्यूमेंटरी का नेशनल जियोग्राफिक चैनल पर प्रीमियर भी हुआ, डाक्यूमेंटरी पर्यटक स्थलों, जंगल, पहाड़ और संस्कृति पर चैनल द्वारा तैयार किया गया है।

 

 (आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.