पश्चिम बंगाल: भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा नेता की हत्या

November 7th, 2021

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। पश्चिम बंगाल के उत्तरी दिनाजपुर जिले में भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के एक नेता की उनके घर पर गोली मारकर हत्या करने के कुछ दिनों बाद, राज्य के पूर्वी मिदनापुर जिले के भगवानपुर में एक और भाजपा नेता की हत्या कर दी गई है। भाजपा इस हत्या के लिए जहां तृणमूल कांग्रेस को जिम्मेदार ठहरा रही है, वहीं सत्तारूढ़ दल ने अपने उपर लगे आरोपों से साफ इनकार किया है। ये घटना शनिवार की रात उस समय हुई, जब चांदीपुर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा के शक्ति केंद्र के प्रमुख शंभू मैती (36) को सड़क किनारे पीट-पीट कर मार डाला गया। रविवार सुबह उनका शव केलघई नदी के किनारे से बरामद किया गया।

स्थानीय लोगों के अनुसार कुछ अज्ञात लोगों ने मैती को जबरन मोटरसाइकिल पर बैठाया और फरार हो गए। रविवार की सुबह उन्होंने नदी के किनारे मैती का शव पड़ा देखा और पुलिस को सूचना दी। पुलिस के मुताबिक मैती के पूरे शरीर पर चोट के निशान हैं। एक वरिष्ठ जिला पुलिस अधिकारी ने कहा, हमने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं। रिपोर्ट आने के बाद हम मौत के सही समय और कारणों का पता लगा पाएंगे। भाजपा ने इस घटना के लिए तृणमूल कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है और आरोप लगाया है कि सत्तारूढ़ दल के भ्रष्टाचार को उजागर करने के लिए मैती की हत्या की गई।

तृणमूल कांग्रेस के स्थानीय नेतृत्व ने आरोप का खंडन करते हुए दावा किया कि यह घटना भाजपा के आंतरिक कलह का परिणाम है। एक स्थानीय नेता ने कहा, तृणमूल किसी भी तरह से घटना में शामिल नहीं है। 17 अक्टूबर को उत्तर दिनाजपुर जिले के इटहार इलाके में भाजपा की युवा शाखा के जिला उपाध्यक्ष मिथुन घोष (37) की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। घोष पर कुछ अज्ञात बदमाशों ने उनके गांव राजग्राम स्थित आवास के सामने गोली चला दी। हालांकि उन्हें रायगंज मेडिकल कॉलेज और अस्पताल ले जाया गया, लेकिन डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

(आईएएनएस)