• Dainik Bhaskar Hindi
  • Politics
  • Bihar: JDU's silence on Nitish's minister Sudhakar Singh's statement of beating officers with shoes, BJP aggressive

बिहार सियासत: बिहार : नीतीश के मंत्री सुधाकर सिंह के अधिकारियों को जूता से पीटने के बयान पर जदयू की चुप्पी, भाजपा आक्रामक

September 26th, 2022

डिजिटल डेस्क, पटना। बिहार में सत्ता परिवर्तन के बाद से कृषि मंत्री बने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता सुधाकर सिंह मंत्री बनने के बाद से ही अपने बयानों को लेकर चर्चित रहे हैं। इस बीच, सिंह के भ्रष्ट अधिकारियों को जूते से पिटाई करने के बयान के बाद राज्य की राजनीति गर्म हो गई है।

रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र से विधायक सुधाकर सिंह रविवार को कैमूर के भगवानपुर में किसानों ने अपनी समस्या से मंत्री को अवगत कराया और अधिकारियों और कर्मचारियों द्वारा रिश्चत मांगने की शिकायत की। इस पर सिंह ने भड़कते हुए कहा कि जो भी कृषि विभाग का अधिकारी या कर्मचारी पैसा मांगता है तो उसको पकड़ कर जूता से पीटिए, जो होगा मैं देख लूंगा।

कृषि मंत्री ने कहा कि मेरे विभाग के अधिकारी भ्रष्ट हैं। 25 से 50 हजार की वसूली करते हैं, लेकिन जल्द ही सारे अधिकारी ठीक हो जाएंगे। उन्होंने अपना मोबाइल नंबर किसानों को बताते हुए कहा कि इसे नोट कर लें, अगर अधिकारी उन्हें परेशान करते हैं तो फोन कर बताएं। इधर, मंत्री के इस बयान के बाद सत्ताधारी महागठबंधन के नेता असहज हैं। अपने दिल्ली दौरे के दौरान दिल्ली में जब इस संबंध में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पूछा गया तब उन्होंने सीधा जवाब तक नहीं दिया। उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी सिंह भ्रष्ट अधिकारियों को लेकर बयान देकर अपने घटक दलो को असहज करते रहे हैं।

सिंह के इस बयान को लेकर सत्ताधारी दल कुछ बोलने को तैयार नहीं है, लेकिन विपक्षी दल भाजपा के लिए सरकार पर तंज कसने का बड़ा मौका मिल गया है। बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि मुख्यमंत्री जी,अब तो आपके कृषि मंत्री सार्वजनिक मंच से अधिकारियों को जूता से पीटने की अपील कर रहे हैं। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि अब तो आपको यह भ्रष्ट तंत्र भी जनता राज ही लग रहा होगा, लेकिन जनता जंगलराज की आहट महसूस कर रही है।

(आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

खबरें और भी हैं...