मुंबई: भाजपा ने मलिक के आरोपों पर किया पलटवार, फडणवीस के माफिया से संबंध को किया खारिज

November 10th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बुधवार को पलटवार करते हुए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के मंत्री नवाब मलिक द्वारा लगाए गए उन आरोपों से इनकार किया, जिसमें मलिक ने कहा था कि विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस के माफिया लिंक रहे हैं। फडणवीस ने प्रसिद्ध नाटककार जॉर्ज बर्नाड शॉ की पंक्तियों को ट्वीट करते हुए कहा, आज का विचार, मैंने बहुत समय पहले सीखा था, कभी सुअर से लड़ाई मत करो। इससे आप गंदे हो जाएंगे, लेकिन सुअर इसे पसंद करेंगे। मीडियाकर्मियों से बात करते हुए, भाजपा नेता और पूर्व मंत्री आशीष शेलार ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, राकांपा अध्यक्ष शरद पवार, मलिक, पृथ्वीराज चव्हाण, असलम शेख और अन्य शीर्ष एमवीए नेताओं के साथ भगोड़े गुंडे रियाज भाटी की तस्वीरें प्रदर्शित करते हुए चेतावनी दी और कहा, आप एक दिखाओ, हम आपको चार तस्वीरें दिखाएंगे।

शेलार ने दावा किया, मलिक ने हाइड्रोजन बम का वादा किया था, लेकिन वह असफल रहे.. वह स्पष्ट रूप से निराश हैं और उन्हें अब ऑक्सीजन की जरूरत है.. अपने तमाम प्रयासों के बावजूद, वह फडणवीस को बदनाम नहीं कर सके। उन्होंने यह जानने की मांग की कि मलिक ने जिन नामों का खुलासा किया है, उन सभी पर महा विकास अघाड़ी सरकार ने कोई कार्रवाई क्यों नहीं की और कहा कि सभी आरोप झूठे हैं। आर्यन खान ड्रग्स केस में नवाब मलिक और समीर वानखेड़े के बीच छिड़ी लड़ाई अब नवाब मलिक बनाम देवेंद्र फडणवीस हो चुकी है। बुधवार सुबह एनसीपी नेता ने प्रेसवार्ता कर महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस के ऊपर कई गंभीर आरोप लगाए थे। इसके कुछ घंटे के बाद ही देंवेंद्र फडणवीस के एक ट्वीट ने इस वाकयुद्ध को और तीखा कर दिया है।

इससे पहले मलिक ने कहा था कि भाटी के पूर्व सीएम से करीबी संबंध रहे हैं। वहीं अब भाजपा नेता शेलार ने फडणवीस के अंडरवल्र्ड के साथ कथित कनेक्शन होने के मलिक के दावों का खंडन करते हुए कहा कि एनसीपी नेता ने देवेंद्र फडणवीस को समीर वानखेड़े, मुन्ना यादव और रियाज भाटी के साथ जोड़ने की कोशिश की, लेकिन कोई रिश्ता नहीं जोड़ पाए। उन्होंने मलिक पर अपराधियों को बचाने, मुस्लिम नामों को घसीट कर अल्पसंख्यकों का ध्यान भटकाने की कोशिश करने का आरोप भी लगाया। मलिक ने फडणवीस पर गलत व्यक्तियों को बढ़ावा देने और संदिग्ध गतिविधियों में शामिल होने का आरोप भी लगाया था।

शेलार ने कहा, नवाब मलिक का आरोप था कि गुंडों को पार्टी में जगह दी गई। उन्हें प्रमुख पदों पर बैठाया गया। हां, यह सच है कि मुन्ना यादव, हाजी हैदर और हाजी अराफात हमारी पार्टी के कार्यकर्ता हैं। उन्हें पद पर बैठाया गया, लेकिन इनके ऊपर एक भी आरोप नही है। यह पता करके उन्हें पद पर बैठाया गया था। मुन्ना यादव पर एक आरोप है। मुन्ना यादव खुद आपके सामने आएंगे और बताएंगे कि उन पर क्या आरोप है। अभी तो नवाब मलिक जी आपकी सरकार है। आप जिन पर आरोप लगा रहे हैं, उन हाजी अराफात और हाजी हैदर पर आज तक एक भी केस क्यों नहीं दर्ज कर पाए? मंगलवार के फडणवीस के आरोपों का समर्थन करते हुए, उन्होंने मलिक के कुर्ला भूमि सौदे पर भी सवाल उठाए।

(आईएएनएस)