यूपी विधानसभा चुनाव 2022: सर्वे में जानें जनता का मूड, अखिलेश को कहां से चुनाव लड़ना था?

January 20th, 2022

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। उत्तर प्रदेश की सियासत में रोज सियासी पारा चढ़ता ही जा रहा है। सभी राजनीतिक पार्टियां लोक लुभावन चुनावी घोषणाएं कर रही हैं, तो दलबदलू  नेताओं का पार्टियों में शामिल होना भी जारी है। इसी बीच गुरूवार को यूपी के चुनावी सियासत से बड़ी खबर सामने आई कि समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मैनपुरी जिले की करहल विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे। बता दें कि करहल विधानसभा सीट अतिसुरक्षित सीटों में आती है। करहल में करीब डेढ़ लाख यादव वोटर्स हैं। करहल सीट पर 1989 से ही सपा का दबदबा रहा है। करहल विधानसभा सीट पर सपा का 7 बार कब्जा रहा है। करहल विधानसभा क्षेत्र में मुस्लिम मतदाता भी अच्छी तादाद में हैं। 

वहीं मैनपुरी जिले के जिलाध्यक्ष ने देवेंद्र यादव, एमएलसी अरविंद यादव, महामंत्री रामनारायण बाथम और करहल विधानसभा विधायक ने पार्टी ऑफिस में अखिलेश यादव के साथ बैठक की और वहां मौजूद सभी समाजवादी नेताओं ने मांग की अखिलेश यादव करहल विधानसभा सीट से चुनाव लड़ें। वहीं अखिलेश यादव के मैनपुरी की करहल सीट से चुनाव लड़ने को लेकर एबीपी सी-वोटर्स ने जनता की चुनावी नब्ज टटोलना चाहा तो जनता की मिजाज कुछ अलग ही निकली।

एबीपी सी-वोटर्स सर्वे में किया गया सवाल

आपको बता दें कि सर्वे में जनता से सवाल किया गया कि आखिरकार अखिलेश यादव को कहां से चुनाव लड़ना चाहिए? इस सवाल के जवाब में 38 फीसदी जनता ने कहा कि आजमगढ़ सीट से अखिलेश को चुनाव लड़ना चाहिए। वहीं 30 फीसदी लोगों ने कहा कि अखिलेश को मैनपुरी की सीट से  चुनाव लड़ना चाहिए। तथा 32 फीसदी वोटर्स ने इस संबंध में कहा कि इन दोनों जगहों को उपयुक्त नहीं माना और कहा कि अखिलेश को कहीं और से चुनावी मैदान में उतरना चाहिए।

अखिलेश यादव को कहां से चुनाव लड़ना चाहिए ?

  • आजमगढ़-38%
  • मैनपुरी-30%
  • कहीं और-32%

गोरखपुर से चुनाव लड़ेंगे योगी

आपको बता दें कि हाल ही में बीजेपी ने अपने उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की थी। जिसमें गोरखपुर शहर से योगी आदित्यनाथ को उम्मीदवार बनाया गया है। हालांकि इसके पहले खबरें आ रही थी कि योगी को अयोध्या या फिर मथुरा से भी चुनाव में उतारा जा सकता है। लेकिन उन सभी अटकलों पर पार्टी आलाकमान ने विराम लगा दिया और योगी को गोरखपुर सीट से चुनाव में उतारने का फैसला लिया है। बताया जा रहा है कि योगी के चुनाव लड़ने के ऐलान के बाद सपा प्रमुख अखिलेश पर भी दबाव बनने लगा था कि वो चुनावी मैदान में उतरें।

हालांकि अखिलेश को लेकर कयास यही लगाए जा रहे थे कि वो आजमगढ़ से ही चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा भी था कि आजमगढ़ की जनता जो कहेगी, वही करूंगा और चुनाव लड़ सकता हूं। अब उन तमाम अटकलों पर विराम लग गया और अखिलेश मैनपुरी के करहल विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में उतरेंगे। 

खबरें और भी हैं...