पंजाब बीजेपी: देश को दंगों की आग में धकेलने की कांग्रेस की साजिश का पीएम मोदी ने किया पदार्फाश

January 6th, 2022

हाईलाइट

  • पीएम बढ़ते तो क्या होता?
  • एक हमला, हिंसा और रक्तपात

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली । भाजपा ने दावा किया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान, खालिस्तानियों और कांग्रेस की साजिश को नाकाम कर दिया है, और उन्होंने देश को दंगों की आग में धकेलने के लिए कांग्रेस के खेल को बेनकाब किया है। बुधवार रात बीजेपी ने ट्विटर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमले की क्रॉनॉली समझें नाम से एक वीडियो शेयर किया है। दो मिनट से अधिक लंबे वीडियो की शुरूआत यह पूछने से होती है कि मोदी पर हमला करने की योजना किसकी थी। वीडियो में सवाल किया गया, क्या यह पाकिस्तान की योजना थी? क्या यह खालिस्तानियों की योजना थी? पूरी योजना का समर्थन कौन कर रहा है? क्या कांग्रेस पूरी योजना का समर्थन कर रही थी?

वीडियो में आगे कहा गया है कि 4 जनवरी को कार्यक्रम की अनुमति न देने की धमकी दी गई, 5 जनवरी को कार्यक्रम में जाने वाले लोगों को धमकाया गया, वाहनों को रोका गया और भाजपा के झंडे फाड़े गए। इसमें कहा गया पांच जनवरी को पहले प्रधानमंत्री मोदी के मार्ग को मंजूरी दी गई। फिर प्रधानमंत्री के काफिले को 20 मिनट के लिए रोका गया। संपर्क करने पर मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने बात नहीं की।

वीडियो में आगे पूछा गया कि अगर प्रधानमंत्री रास्ते पर आगे बढ़ गए होते तो क्या होता? एक दंगा, एक हमला, हिंसा और रक्तपात, प्रधानमंत्री को मारने का प्रयास। वीडियो में एक समाचार रिपोर्ट भी दिखाई गई, जिसमें प्रधानमंत्री ने कथित तौर पर बठिंडा हवाई अड्डे पर अधिकारियों से पंजाब के मुख्यमंत्री को धन्यवाद देने के लिए कहा कि वह जीवित लौट आए है।

प्रधानमंत्री मोदी बुधवार को 42,750 करोड़ रुपये से अधिक की कई विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखने के लिए पंजाब के फिरोजपुर का दौरा करने पहुंचे थे। प्रधानमंत्री ने सुरक्षा उल्लंघन के कारण पंजाब के फिरोजपुर की अपनी निर्धारित यात्रा रद्द कर दी। गृह मंत्रालय (एमएचए) ने कहा था कि पंजाब दौरे के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा भंग हुई थी। गृह मंत्रालय ने सुरक्षा उल्लंघन का संज्ञान लेते हुए राज्य सरकार से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। एमएचए ने पंजाब सरकार से इस चूक की जिम्मेदारी तय करने और सख्त कार्रवाई करने को भी कहा है।

 

(आईएएनएस)